Delhi में कोरोना का कहर जारी, अरविंद केजरीवाल ने बढ़ाया इतने दिन तक Lockdown

मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने दिल्ली में लॉकडाउन को अगले सोमवार यानी की 3 मई के सुबह 5 बजे तक के लिए बढ़ा दिया है

नई दिल्ली: राजधानी दिल्ली (Delhi) में कोरोना का कहर जारी है। संक्रमण के बढ़ते हुए ग्राफ को देखते हुए मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Arvind kejriwal) ने दिल्ली में लॉकडाउन (Lockdown) को अगले सोमवार यानी की 3 मई के सुबह 5 बजे तक के लिए बढ़ा दिया है। उन्होंने  कहा कि लॉकडाउन के दौरान हमने देखा कि पॉजिटिविटी रेट लगभग 36-37% तक पहुंच गया, हमने दिल्ली में इतनी संक्रमण दर आज तक नहीं देखी। पिछले एक-दो दिन से संक्रमण दर थोड़ी कम हुई है और आज 30% के नीचे आई है।

700 टन ऑक्सीजन की जरूरत

मुख्यमंत्री ने बताया कि दिल्ली में 700 टन ऑक्सीजन (Oxygen) की जरूरत है, हमें केंद्र सरकार से 480 टन ऑक्सीजन आवंटित हुआ है और कल केंद्र सरकार ने 10 टन और आवंटित किया है, अब दिल्ली को 490 टन ऑक्सीजन आवंटित हुआ है। लेकिन अभी ये पूरा आवंटन भी दिल्ली में नहीं आ रहा है, कल 330-335 टन ऑक्सीजन दिल्ली पहुंची है।

ऑक्सीजन के लिए पोर्टल

अरविंद केजरीवाल ने बोला कि ऑक्सीजन के प्रबंधन के लिए हमने एक पोर्टल बनाया है। उत्पादक से लेकर अस्पताल तक सब को हर दो घंटे में अपनी ऑक्सीजन की स्थिति बतानी होगी। केंद्र सरकार से काफी सहयोग मिल रहा है, केंद्र और दिल्ली सरकार मिलकर काम कर रही हैं।

ऑक्सीजन पर सियासत

दिल्ली में कोरोना काल के बीच सियासत भी गरमा गई है। BJP सांसद गौतम गंभीर (Gautam Gambhir), मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल पर आलोचना करते हुए कहा कि, 8 ऑक्सीजन प्लांट आपको (अरविंद केजरीवाल) लगाने थे जिमसें से 1 ही लगा है। उसका क्या हुआ? हाथ तो आपने पिछले साल भी खड़े कर दिए थे, इस साल भी कर रहे हैं और अगले साल भी करेंगे। अभी भी मुख्यमंत्री (अरविंद केजरीवाल) के विज्ञापन चल रहे हैं। इस समय उसी पैसे से लोगों की सेवा करने की जरूरत है। मुख्यमंत्री को तो शर्म आएगी नहीं। उन्हें तो विज्ञापन पर विज्ञापन दिए जाना है। हर 2 मिनट पर विज्ञापन दिए जा रहे हैं।

सांसद गौतम गंभीर ने कहा कि, हमने पूर्वी दिल्ली के लिए फेबीफ्लू (Febiflu) बांटने की शुरूआत की थी। अब पूरी दिल्ली में जिसको भी जरूरत है वो हमारे फाउंडेशन के कार्यालय पर आधार कार्ड और डॉक्टर की पर्ची लेकर आएं और मुफ्त में ले जाएं।

यह भी पढ़ेरेलवे कोच Isolation Coach में तब्दील, अस्पताल के वार्ड की तरह सारी सुविधाएं उपलब्ध

Related Articles

Back to top button