Coronavirus : भारत का एहसान चुकाने के लिए चीन ने बढ़ाया मदद का हाथ

बीजिंग : भारत को जरूरी मदद देने की पेशकश के एक दिन बाद, चीन ने शुक्रवार को कहा कि वह नई दिल्ली से इस बारे में बात करने के लिए तैयार है कि उसे Coronavirus के मामलों में आए इस उछाल से निपटने के लिए क्या करना चाहिए। मीडिया रिपोर्ट  के मुताबिक, नई दिल्ली को बीजिंग किस तरह की मदद देने के लिए तैयार है? इस सवाल के जवाब में चीन के फॉरेन मिनिस्ट्री ने कहा कि वह भारत से इस बारे में बात करने के लिए तैयार है कि उसे क्या चाहिए।

फॉरेन मिनिस्ट्री ने कहा की चीन अपनी जरूरतों के हिसाब से भारत के साथ अहम मसलों पर बातचीत करने को तैयार है। अपने बयान में मंत्रालय के प्रवक्ता, वांग वेनबिन ने कहा कि बीजिंग जानता है कि भारत में महामारी काफी गंभीर हो गई है और मुल्क इसकी  रोकथाम के लिए काम आने वाली कई जरूरी चीज़ों की कमी से जूझ रहा है। वांग ने मिनिस्ट्री की रुटीन ब्रीफिंग के दौरान चीन के आधिकारिक मीडिया के एक सवाल के जवाब में ये बात कही थी, जिसमें पूछा गया था कि चीन भारत में फैल रही महामारी को देखते हुए क्या कार्रवाई कर रहा है?

जब Coronavirus से बेहाल चीन की भारत ने की थी मदद

वांग ने किस तरह की सहायता दी जा सकती है, इसका ब्योरा दिए बिना कहा कि चीन जरूरी मदद प्रदान करने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा की कोरोनावायरस मानव जाति का दुश्मन है और हमें ग्लोबल समुदाय के रूप में इस महामारी के खिलाफ लड़ने के लिए एकजुट होने की जरूरत है।

आपकी जानकारी के लिए बताते चलें की पिछले साल जब चीन में कोविड अपना कहर बरपा रहा था तब भारत ने चीन को लगभग 2.11 करोड़ की लागत से मास्क, दस्ताने और इमरजेंसी मेडिलक उपकरण सहित 15 टन मेडिकल सप्लाई दी थी।

यह भी पढ़ेंसरकार की इस scheme से कैसे होगा करोड़ों लोगों को फ़ायदा , जानने के लिए पढ़ें खबर

Related Articles