Coronavirus:आज तीन और कोरोना संक्रमित मिले,अब कुल मरीजों की संख्या 75 हुई

उत्तराखंड में आज गुरुवार को तीन और कोरोना संक्रमित मरीज मिले हैं।आप को बता दे की अब राज्य में कुल मरीजों की संख्या 75 हो गई है।वेतन में से एक साल तक 30 फीसदी कटौती के फैसले पर केवल एक विधायक ने दी सहमति बता दें कि बुधवार को भी राज्य में तीन संक्रमित मिले थे। जो दूसरे राज्य से उत्तराखंड आए थे। आज मिले संक्रमित भी अन्य राज्यों से उत्तराखंड आए हैं।दून अस्पताल के डिप्टी एमएस और कोरोना स्टेट कॉर्डिनेटर डॉ. एनएस खत्री ने आज तीन और मरीजों की मिलने की पुष्टि की है।तीन नए संक्रमित मामले आने की पुष्टि डॉ. एनएस खत्री ने बताया कि तीन और मरीजों की जांच रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। तीनों को दून अस्पताल लाने की तैयारी की जा रही है।आज मिले मरीजों में एक महिला मसूरी की, एक संक्रमित रायपुर और एक डालनवाला का है। ये सभी प्रवासी हैं और बाहर से आए हैं।

अपर सचिव स्वास्थ्य युगल किशोर पंत ने गुरुवार को तीन नए संक्रमित मामले आने की पुष्टि की है।महिला का आशारोड़ी चेक पोस्ट पर लिया था सैंपल बुधवार को मिले तीन संक्रमितों में एक देहरादून, एक अल्मोड़ा और एक नैनीताल जिले का था।मसूरी में 36 साल की महिला के कोरोना पॉजिटिव आने से हड़कंप मच गया है। उक्त महिला 13 मई को दिल्ली से मसूरी आई थी।देहरादून आते हुए महिला का आशारोड़ी चेक पोस्ट पर सैंपल लिया था। जो पॉजिटिव आया है।महिला के साथ दो बच्चे भी दिल्ली से देहरादून आए हैं। महिला के पॉजिटिव आने के बाद पुलिस द्वारा मसूरी के लंढौर क्षेत्र को सील किया जा रहा है।

प्रशासन के द्वारा महिला के संपर्क में आए लोगों को चिन्हित किया जा रहा है।
चौबीस घंटे में आठ हजार लोगों को किया गया होम क्वारंटीन बाहरी राज्यों से लौट रहे प्रवासियों से कोरोना संक्रमण फैलने के खतरे को देखते हुए स्वास्थ्य विभाग ने सर्विलांस को बढ़ा दिया है। चौबीस घंटे के अंदर प्रदेश में आठ हजार लोगों को होम क्वारंटीन किया गया है। जबकि तीन हजार लोगों को संस्थागत क्वारंटीन किया गया है।

कैबिनेट मंत्री मदन कौशिक ने बताया कि प्रदेश में अब तक बाहरी राज्यों से 63  हजार प्रवासी उत्तराखंड आए हैं। बाहर से आने वाले किसी भी व्यक्ति को किसी तरह कोई छूट नहीं है। जो भी लोग बाहर से आए हैं, उनकी थर्मल स्कैनिंग के साथ मेडिकल जांच की जा रही है।14 दिन तक होम क्वारंटीन में रहना होगाजांच में कोरोना संक्रमण के संदिग्ध लक्षण नहीं मिलते हैं, तो उन्हें 14 दिन तक होम क्वारंटीन में रहना होगा। उन्होंने कहा कि जो भी प्रवासी वापस उत्तराखंड आ रहे हैं। सभी को होम और संस्थागत
क्वारंटीन किया जा रहा है।

कोरोना संक्रमण की रोकथाम के लिए पूरी तरह से सतर्कता बरती जा रही है। सीमावर्ती क्षेत्रों में कड़ी निगरानी हो रही है। स्वास्थ्य विभाग की रिपोर्ट के अनुसार 12 मई तक प्रदेश में 19969 लोगों को होम क्वारंटीन और 2805 को संस्थागत क्वारंटीन किया गया।जबकि बुधवार को होम क्वारंटीन की संख्या 28055 और संस्थागत क्वारंटीन की संख्या 2935 हो गई है।

 

Related Articles

Back to top button