वीडियोकॉन के एसेट्स जब्त करने के लिए कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री ने NCLT को किया आवेदन

मुंबई : बैंकरप्ट हो चुकी वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज के एसेट्स को जब्त कर इसका बकाया चुकाया जायेगा। इस कड़ी में कॉरपोरेट अफेयर्स मिनिस्ट्री ने 5,000 करोड़ रुपये से अधिक के ऐसे एसेट्स की पहचान की है जिन्हें NCLT  मंज़ूरी के बाद बाजार में नीलाम किया जायेगा।

NCLT की मंज़ूरी के बाद एसेट्स ज़ब्त कर सकेगी सरकार

इस कड़ी में सरकार रिकवरी के लिए सभी मुमकिन जरियों को तलाश रही है। मिनिस्ट्री अपनी पावर का इस्तेमाल कर कंपनी के एसेट्स को जब्त करने और उनकी बिक्री से रिकवरी करने की योजना बना रही है। इस के तहत मिनिस्ट्री ने कंपनीज एक्ट के सेक्शन 241 और 242 के तहत नेशनल कंपनी लॉ ट्राइब्यूनल (NCLT) की मुंबई बेंच को वीडियोकॉन इंडस्ट्रीज के एसेट्स जब्त करने का आवेदन दिया है। इस मामले की सुनवाई इसी हफ्ते हो सकती है।

यह भी पढ़ें : Kumbh Mela के दौरान फर्जी Covid जांच घोटाले में तीन के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें की वीडियोकॉन के खिलाफ 2018 में बैंकरप्सी की प्रोसीडिंग दाखिल की गई थी। इसमें कुल बकाया राशि 71,433.75 करोड़ रुपये बताई गई थी। हालांकि, सरकार ने सिर्फ 64,848.63 करोड़ रुपये के क्लेम को ही मंज़ूरी दी है।

यह भी पढ़ें : Kumbh Mela के दौरान फर्जी Covid जांच घोटाले में तीन के खिलाफ गैर जमानती वारंट जारी

Related Articles