#PresidentialElection : पहले राउंड का रिजल्ट आया सामने, रामनाथ कोविंद की जीत पक्की

0

नई दिल्ली: भारत के 14वें राष्ट्रपति के चयन के लिए हुए मतदान की गिनती जारी है। 12 बजे तक के आए रुझान से सत्तारूढ़ राजग सरकार के राष्ट्रपति पद के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद की जीत लगभग तय मानी जा रही है। जबकि विपक्ष की ओर से उनके खिलाफ चुनाव लड़ने वाली मीरा कुमार की चुनावी स्थिति डामाडोल नजर आ रही है। अनुमान लगाया जा रहा है कि इस चुनाव में रामनाथ कोविंद को करीब 64% वोट मिलेंगे, जबकि मीरा कुमार को करीब 36% वोट मिलने की बात कही जा रही है। पहले रुझान में रामनाथ कोविंद को 60 हजार 683 जबकि मीरा कुमार को 22 हजार 941 वोट मिले है।

आपको बता दें कि 17 जुलाई को देश के सांसदों और विधायकों ने राष्ट्रपति चुनाव में मतदान किये थे। जिसकी गिनती आज की जा रही है। यह गिनती आठ राउंड में की जाएगी जिसका पहला राउंड 12 बजे ख़त्म हुआ है। वोटों की गिनती का इंतज़ाम संसद भवन के उसी 62 नंबर हॉल में किया गया है।

राष्ट्रपति चुनाव में कितनी है वोटों की संख्या

गौरतलब है कि राष्ट्रपति चुनाव में संसद के दोनों सदनों के सांसदों और देश के सभी राज्यों के विधानसभाओं में जनता द्वारा चुने गए विधायकों को वोट देने का अधिकार है। फिलहाल लोकसभा में 543 और राज्यसभा में 233 यानी कुल 776 निर्वाचित सदस्य हैं। इसके अलावा विधानसभाओं के 4120 सदस्य हैं। इनमें दिल्ली और पुदुचेरी के भी विधायक शामिल हैं।

मतदाता सूची में हर सांसद और विधायक के वोट की ताकत अलग-अलग होती है। अलग-अलग राज्यों के सांसदों और विधायकों के वोट के वजन में फर्क होता है। विधायकों और वोटों के इस वजन को तय करने के लिए एक फार्मूले का प्रयोग किया जाता है। इसका फॉर्मूला है- राज्य की जनसंख्या (1971 में)/विधायकों की संख्या*1000

देश में कुल वोटों की संख्या

राष्ट्रपति चुनाव के लिए कुल मतदाता = विधायक (4120) + सांसद (776) = 4,896
इस साल के राष्ट्रपति चुनाव में सभी मतदाताओं के कुल वोटों की कीमत = 549474 + 549408 = 10,98,903
किसी भी प्रत्याशी को जीतने के लिए 549452 वैल्यू के वोट चाहिए होंगे।

loading...
शेयर करें