देश को एसबीआइ जैसे चार,पांच Banks की जरूरतः निर्मला सीतारमण

नई दिल्ली : फाइनेंस मिनिस्टर  निर्मला सीतारमण ने हाल ही में एक बयान जारी कर कहा है कि इकोनॉमी और इंडस्ट्रीज की बदलती जरूरतों के अनुसार बैंकिंग में बदलाव होंगे। उन्होंने इंडियन बैंक्स एसोसिएशन की एनुअल जनरल मीटिंग को संबोधित करते हुए कहा, “देश में स्टेट बैंक ऑफ इंडिया जैसे चार से पांच Banks की जरूरत है।”

Banks के लोगों को श्रद्धांजलि पेश कर की कार्यक्रम की शुरुआत

इस कड़ी में आपकी जानकारी के लिए बता दें उन्होंने अपने संबोधन की शुरुआत कोरोना के दौरान देश की सेवा करते हुए जान गंवाने वाले बैंकिंग इंडस्ट्री से जुड़े लोगों को श्रद्धांजलि देकर की। सीतारमण ने कहा, “अगर हम कोरोना के बाद की स्थिति देखें तो देश में बैंकिंग के तौर तरीकों में बदलाव करना होगा। बैंकिंग ने डिजिटाइजेशन को लागू करने में सफलता हासिल की है।” उन्होंने कहा कि देश के बैंकों में डिजिटाइजेशन बढ़ने से सरकार को डिजिटल जरियों से स्मॉल, मीडियम और बड़े एकाउंट होल्डर्स को पैसा ट्रांसफर करने में मदद मिली है।

सीतारमण ने कोरोना के दौरान सामने आई चुनौतियों के बारे में कहा, “बैंकर्स के सामने एक बड़ी चुनौती बैंकों के मर्जर से जुड़ी सरकार के एजेंडा की थी। यह कोरोना के दौरान हुआ। बैंक दूरदराज के क्षेत्रों में मौजूद लोगों की भी मदद कर रहे थे।”

यह भी पढ़ें : पंजाब के cabinet में हुआ विस्तार, इन को मिली जगह

 

Related Articles