Gautam Thapar जमानत याचिका पर कोर्ट ने ईडी से किया जवाब तलब

नई दिल्ली : अदालत ने सोमवार को एनफोर्समेंट डायरेक्टोरेट  को यह निर्देश दिया कि वह एक अक्टूबर तक Gautam Thapar की जमानत याचिका पर अपना जवाब दे। अवंता ग्रुप की कंपनियों के प्रमोटर गौतम थापर मनी लॉन्ड्रिंग मामले में जेल में हैं।

Gautam Thapar साठ साल की उम्र में हैं कैद

थापर की गिरफ्तारी प्रीवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट के तहत तीन अगस्त को हुई थी। ईडी ने पहले थापर के दिल्ली और मुंबई के ठिकानों पर छापेमारी की और फिर उन्हें गिरफ्तार किया। ईडी यस बैंक में हुए फर्जीवाड़े की जांच कर रहा था। वह यह पता लगा रहा था कि यस बैंक के को-फाउंडर राणा कपूर और अवंता रियल्टी के बीच कथित तौर पर पैसों का लेनदेन हुआ है या नहीं। इस कड़ी में दिल्ली की अदालत के स्पेशल जज ने ईडी को तीन दिनों का समय दिया है ताकि वह थापर की जमानत पर अपना जवाब दे सके।

इस कड़ी में थापर के वकीलों का कहना है कि अब कस्टडी में लेकर जांच करने की जरूरत नहीं है। लिहाजा गौतम थापर को जमानत मिलनी चाहिए। गौतम थापर की पैरवी लॉ फर्म करणजंवाल एंड कंपनी कर रही है।

यह भी पढ़ें : ”राहुल गाँधी और अरविंद केजरीवाल पाकिस्तान के पिल्ले है”

Related Articles