कोर्ट आज करेगा वाड्रा की सजा पर फैसला, मिलेगी बेल या जेल

दिल्ली की पटियाला हाउस कोर्ट सोमवार को इस बात का फैसला करेगी कि प्रियंका गांधी वाड्रा के पति और उद्योगपति रॉबर्ट वाड्रा और उनके करीबी मनोज अरोड़ा को अग्रिम जमानत मिलेगी या नहीं।
इस बात का फैसला शाम को चार बजे हो जाएगा। पिछली सुनवाई के दौरान अदालत ने अपने फैसले को सुरक्षित रख लिया था।

प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) वाड्रा की कस्टडी रिमांड चाहता है और इसी वजह से जमानत का विरोध किया है। अदालत में ईडी के वकील का कहना था कि वाड्रा के खिलाफ सबूत पर्याप्त हैं और उससे हिरासत में लेकर पूछताछ की जानी चाहिए।

जांच एजेंसी का दावा है कि उसने पेट्रोलियम और रक्षा सौदों में रिश्वत ली है।

क्या है मामला

ईडी एक पेट्रो-केमिकल कॉम्पलेक्स की जांच कर रहा है। इसे ओएनजीसी ने विशेष आर्थिक क्षेत्र बनाने का निर्णय लिया था। सैमसंग इंजीनियरिंग को इसका हिस्सा बनाने के लिए ओएनजीसी ने पैसे दिए थे।
इसके बाद सैमसंग ने संजय भंडारी की दुबई स्थित कंपनी इंटरनेशनल एफजेडसी को काम दिया।

यह अनुबंध सैमसंग को दिसंबर 2008 में मिला था और कंपनी ने इसके बाद सेंटेक को 49,90,000 अमेरीकी डॉलर का भुगतान किया था। भंडारी की सेंटेक ने जून 2009 को लंदन के 12 ब्रायनस्टन स्क्वायर में संपत्ति खरीदी थी।

यह संपत्ति वर्टेक्स प्राइवेट लिमिटेड के नाम पर पंजीकृत थी।

Related Articles