कोर्ट का बड़ा फैसला, मुस्लिम ब्रदरहुड के 11 सदस्यों की सुनाई मौत की सजा

काहिरा। मिस्र की अदालत ने प्रतिबंधित मुस्लिम ब्रदरहुड के 11 सदस्यों को मृत्युदंड की सजा दी है। पुलिसकर्मियों की हत्या और उन्हें घायल करने के दोषी ठहराए जाने पर यह सजा सुनाई गई है।यह मामला अगस्त 2013 है, जब दोषियों ने घात लगाकर पुलिस के वाहन पर हमला किया और अंधाधुंध गोलीबारी की।

एक अन्य मामले में शारकिया की जगाजिग आपराधिक अदालत ने मुस्लिम ब्रदरहुड के पांच वफादारों को 25 साल कैद की सजा सुनाई है, जो मिस्र में आजीवन कारावास के समान है। मिस्र में 2012 में पूर्व राष्ट्रपति मोहम्मद मुर्सी के तख्तापलट के बाद से सुरक्षाबलों पर हमले बढ़े हैं।

Related Articles