पुरानी रंजिश के चलते चचेरे भाइयों ने युवक को उतारा मौत के घाट, दो आरोपी गिरफ्तार

 

युवक को उतरा मौत के घाट
युवक को उतरा मौत के घाट

लखनऊ: मामला पीजीआई क्षेत्र के हैवतमऊ गांव का है जहां सोमवार को देर शाम को पुरानी रंजिश के चलते दो गुटों में मारपीट हो गयी। एक गुट के लोगों ने दूसरे पर लाठी-डंडे बरसाते हुए हमला बोल दिया। मारपीट की वारदात में गंभीर रूप से अर्जुन रावत (26) घायल हुआ और इलाज के दौरान मौत हो गई। भाई की तहरीर पर पुलिस ने चचेरे भाइयों पर हत्या का मुकदमा दर्ज कर लिया है। पुलिस ने देर शाम दो आरोपी को गिरफ्तार किया है।

प्रभारी निरीक्षक पीजीआई के के मिश्रा के बताया कि हैवतमऊ गांव में सोमवार शाम करीब 7.30 बजे पुरानी रंजिश के चलते अर्जुन रावत पर उसके चचेरे भाइयों सिकंदर, पितांबर व दिलीप ने हमला कर दिया। लाठी-डंडे व ईंट से उसे बुरी तरह से पीटकर घायल कर दिया। पिटाई के बाद खून से लथपथ अर्जुन बेहोश होकर वहीँ गिर गया। परिवारीजनों ने पुलिस को सूचना दी। पुलिस ने अर्जुन को सिविल अस्पताल में भर्ती करा दिया जहां उसकी देर रात लगभग एक बजे इलाज के दौरान मौत हो गई।

पिता नरपत केमुताबिक, अर्जुन एसजीपीजीआई में मजदूरी करता था। अर्जुन और उसके चाचा के परिवार से पुरानी रंजिश चली रही है जिसके कारण अक्सर विवाद होता रहता था। भाई आजाद के मुताबिक, सोमवार शाम को चचेरे भाइयों ने अर्जुन पर हमला कर दिया। पुलिस के मुताबिक, भाई आजाद की तहरीर पर सिकंदर, पीतांबर और दिलीप सहित एक दर्ज अन्य के खिलाफ हत्या की FIR दर्ज कर ली गयी है। दो आरोपियों पीतांबर और दिलीप को गिरफ्तार कर लिया गया है। इस मामले में पुलिस ने सात लोगों को हिरासत में लिया है।

यह भी पढ़ें:  यूपी: नामचीन स्टोर्स पर डिस्प्ले होंगी कारीगरों द्वारा निर्मित गणेश-लक्ष्मी की मूर्तियां

Related Articles