IPL
IPL

उत्तर प्रदेश में महाराष्ट्र, केरल से आने वाले यात्रियों के लिए कोरोना जांच अनिवार्य

लखनऊ : उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के अतिरिक्त मुख्य सचिव (स्वास्थ्य) अमित मोहन प्रसाद (Amit Mohan Prasad) ने शुक्रवार को एक पत्र के माध्यम से बताया कि राज्य में कोरोना से बचाव के लिए कड़े प्रतिबंध लागू किए जा सकते है। महाराष्ट्र और केरल से आने वाले यात्रियों के लिए COVID-19 का  टेस्ट  कराना अनिवार्य होगा।

अमित मोहन ने सुझाव दिया कि इन राज्यों से आने वाले सभी यात्रियों के लिए एक एंटीजन टेस्ट अनिवार्य किया जाए यदि कोरोना के लक्षण पाए जाते हैं तो तो यात्री का RT- पीसीआर टेस्ट भी किया जा सकता है।

साथ ही रेल मार्गों के माध्यम से राज्य में आने वाले सभी यात्रियों को कोविड प्रोटोकॉल का पालन करना होगा। सरकार संबंधित परिवहन प्राधिकरण से रेल मार्ग या बसों के माध्यम से आने वाले यात्रियों के बारे में जानकारी प्राप्त करेगी और आवश्यकतानुसार यात्रियों की निगरानी और परीक्षण करेगी।

24 फरवरी को केंद्र उच्च स्तरीय टीमें गठित की

बता दें कि 24 फरवरी को, केंद्रीय स्वास्थ्य और परिवार कल्याण मंत्रालय (MoHFW) ने महाराष्ट्र, केरल, छत्तीसगढ़, मध्य प्रदेश, गुजरात, पंजाब, कर्नाटक, तमिलनाडु, पश्चिम बंगाल और जम्मू और कश्मीर के लिए उच्च-स्तरीय टीमों की नियुक्ति की है।

ये तीन सदस्यीय बहु-विषयक टीमें राज्यों और केन्द्र शासित प्रदेशों के प्रशासन के साथ मिलकर काम करेंगी और हाल ही में COVID-19 मामलों की संख्या में वृद्धि के कारणों का पता लगाएंगी। ट्रांसमिशन की श्रृंखला को तोड़ने और COVID-19 नियंत्रण उपायों के लिए वे राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों के स्वास्थ्य अधिकारियों के साथ समन्वय भी करेंगे।

इसे भी पढ़े: जेल से रिहा होने के बाद एक्टिविस्ट नौदीप कौर ने पुलिस पर लगाया प्रताड़ना का आरोप

स्वास्थ्य मंत्रालय ने राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों को संबंधित जिला अधिकारियों के साथ कोरोना की स्थिति की नियमित समीक्षा की भी सलाह दी है।

Related Articles

Back to top button