गाय का गोबर हमारी अर्थव्यवस्था को मजबूत कर सकता है: शिवराज सिंह चौहान

भोपाल: मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भारतीय पशु चिकित्सा संघ ‘शक्ति 2021’ द्वारा महिला पशु चिकित्सकों के लिए आयोजित एक विशेष कार्यक्रम में कहा कि गाय, गोबर और इसका मूत्र व्यक्ति की अर्थव्यवस्था को मजबूत कर भारत को आर्थिक रूप से सक्षम बना सकते हैं। घटना शनिवार 13 नवंबर की है।

उन्होंने आगे कहा कि देश ने गौ अभ्यारण्य और आश्रय स्थल बनाए हैं लेकिन इसमें व्यक्तियों और समाज की अधिक भागीदारी की आवश्यकता है। उन्होंने कहा, “अगर हम चाहें तो अपनी अर्थव्यवस्था को मजबूत कर सकते हैं और गायों, उनके गोबर और मूत्र के माध्यम से देश को आर्थिक रूप से सक्षम बना सकते हैं। एमपी के श्मशान घाट लकड़ी के उपयोग को कम करने के लिए गौकस्थ (गाय के गोबर से बने लॉग) का उपयोग कर रहे हैं।”

उन्होंने पशु चिकित्सकों और विशेषज्ञों से परिणामोन्मुखी काम करने का आग्रह किया कि छोटे किसानों और पशुपालकों के लिए गाय पालन कैसे लाभदायक हो सकता है।

इस अवसर पर केंद्रीय मत्स्य पालन, पशुपालन और डेयरी मंत्री पुरुषोत्तम रूपाला भी मौजूद थे। उन्होंने कहा कि गुजरात के ग्रामीण इलाकों में ज्यादातर महिलाएं गाय पालन से जुड़ी हैं, जिसके परिणामस्वरूप सफल डायरी कारोबार हुआ है। उन्होंने केंद्र से इस क्षेत्र में अधिक काम करने में रुचि रखने वाली महिलाओं की मदद करने का भी आग्रह किया।

Related Articles