चारधाम मार्ग पर बनेंगे क्राफ्ट विलेज, युवाओं को मिलेगा रोजगार

0

utt-chardham route-1

देहरादून। उत्तराखंड के बेरोजगार युवाओं को स्वरोजगार देने के उद्देश्य से राज्य सरकार ने पहल की है। रावत सरकार चारधाम यात्रा मार्ग के साथ ही नैनीताल और मसूरी में भी क्राफ्ट विलेज विकसित करेगी। राज्य के वनों से मिलने वाली तुन, देवदार, शीशम और अखरोट की लकड़ी से खास उत्पाद तैयार किये जायेंगे। इन उत्पादों के जरिये पर्यटकों को आकर्षित किया जायेगा। इनके अलावा प्रदेश के अन्य पर्यटक और प्रवेश स्थलों के पास भी स्थानीय उत्पादों की बिक्री के लिये छोटे-छोटे बाजार बनाये जायेंगे।

utt-chardham route-8

इस संबंध में सीएम हरीश रावत ने माइक्रो, स्मॉल एंड मीडियम इंटरप्राइजेज (एमएसएमई) के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ हुई अहम बैठक में ये निर्देश दिये। सीएम ने अधिकारियों को प्रदेश में हर साल दो हजार नए उद्यमी तैयार करने के निर्देश भी दिए।

utt-chardham route-4

सीएम हरीश रावत ने कहा कि पर्वतीय क्षेत्रों में ज्यादा से ज्यादा लोग छोटे उद्योगों के प्रति आकर्षित हों, इसके लिए एमएसएमइ नीति में जरूरी बदलाव भी किये जा सकते हैं। स्वरोजगार के प्रति युवाओं को जोड़ने के लिए सभी संबंधित विभाग आपसी तालमेल के साथ बेहतर काम करें।

utt-chardham route-5

इस दौरान सीएम ने ये भी कहा कि मरचूला में पीतलनगरी की तरह भगवानपुर, लंढौरा समेत अन्य पर्वतीय क्षेत्रों में वुडक्राफ्ट और वुड कार्विंग को बढ़ावा देने के लिए स्थान चयनित किये जायें। स्थानीय उत्पादों के छोटे-छोटे बाजार से महिला स्वयं सहायता समूहों को भी जोड़ा जाये।

utt-chardham route-6

पर्वतीय क्षेत्रों में उद्योगों की स्थापना के लिए विशेष कोशिशें की जायें। निष्क्रिय इकाईयों को पुनर्जीवित करने और मुर्गी पालन जैसे व्यवसाय को भी बढ़ावा दिया जाए। प्रदेश में उद्योगों को बढ़ावा देने के लिए वातावरण तैयार करने की सख्त जरूरत है। इसके लिए संबंधित विभाग विशेषज्ञों और उद्यमियों से भी समन्वय करें। उन्होंने ये भी कहा कि उद्यमियों को दी जाने वाली कैपिटल सब्सिडी के प्रकरणों का भी समयबद्ध निस्तारण किया जाए।

 

loading...
शेयर करें