CWG 2018: खेलों पर पड़ी डोपिंग की छाया, सीजीएफ ने रद्द की दो भारतीय एथलीट्स की मान्यता

गोल्ड कोस्ट। भारतीय एथलीट राकेश बाबू और इरफान कोलोथुम थोडी को यहां जारी 21वें राष्ट्रमंडल खेलों में ‘सुई साथ न रखने’ की नीति के उल्लंघन का दोषी पाया गया है। इस कारण राष्ट्रमंडल खेल महासंघ (सीजीएफ) ने उन्हें स्वदेश वापस भेज दिया है।

babu

सीजीएफ ने गुरुवार को उनके चिकित्सा आयोग द्वारा भारतीय टीम के खिलाफ की गई शिकायत पर कार्रवाई की। सीजीएफ के अनुसार, राकेश और इरफान के राष्ट्रमंडल खेल गांव के क्वार्टरों में सुइयां पाई गईं। इसलिए दोनों को संदिग्ध डोपिंग मामले के तहत भारत भेज दिया गया है।

एक सफाईकर्ता ने उनके कमरों में टेबल के पास रखे गए कपों में इन सुइयों को देखा था।

राष्ट्रमंडल खेल महासंघ ने अपने बयान में कहा, राकेश और इरफान ने सुई साथ न रखने की नीति का उल्लंघन किया है। वे दोनों इस नीति के अनुच्छेद एक, दो, तीन और चार का पालन नहीं कर सके। ये चारों अनुच्छेद सुइयों के इस्तेमाल के संबंध में है।

सीजीएफ ने कहा, राकेश और इरफान को इस मामले में तुरंत प्रभाव के साथ राष्ट्रमंडल खेलों से बाहर कर दिया गया है। उनकी मान्यता को भी रद्द कर दिया गया है।

राकेश को शुक्रवार को तिहरी कूद का फाइनल खेलना था, जिसमें उन्होंने 12वें स्थान पर रहकर क्वालीफाई किया था। इसके अलावा, इरफान की 20 किमी पैदलचाल स्पर्धा हो चुकी है, जिसमें वह 13वें स्थान पर रहे।

Related Articles