साइबर एसपी ने बताया कैसे करें इन्टरनेट का उपयोग, ऑनलाइन पीछा करना अपराध

0

भोपाल : भोपाल ‘साइबर सुरक्षा’ पर आयोजित एक कार्यशाला में इन्टरनेट कर का उपयोग करने वालों से जागरूक रहने के लिए कहा गया है। और यह भी कहा गया कि किसी व्यक्ति का आईडी पासवर्ड चोरी करने पर तीन साल तक की सजा हो सकती है।

ये बातें वहां के स्थानीय कोपल स्कूल में आयोजित किये गये कार्यशाला में राजस्व, विज्ञान और प्रौद्योगिकी मंत्री उमाशंकर गुप्ता ने बताई और कहा कि नवीन तकनीकों से जितनी सुविधाएं बढ़ी हैं, उतने खतरे भी बढ़े हैं।

आज जरुरी है कि इंटरनेट का उपयोग करते समय सावधानी बरतें, साथ ही नेट के उपयोग के समय ली जाने वाली सावधानियों के ब्रॉशर स्कूल और कॉलेज में बंटवाए जाएं।

साइबर सेल के पुलिस अधीक्षक सुदीप गोयनका ने कहा कि किसी भी व्यक्ति का आईडी पासवर्ड चुराने पर तीन साल की सजा हो सकती है। इसी तरह आपकी पेनड्राइव से किसी के कम्प्यूटर का डेटा नष्ट हुआ तो पांच करोड़ रुपये तक का जुर्माना लग सकता है।

गोयनका ने कहा कि डेट ऑफ़ बर्थ आदि निजी सूचनाओं को पासवर्ड में उपयोग नहीं करें। पासवर्ड बड़ा बनाएं। सेक्युरिटी प्रश्न का उत्तर गलत लिखें। सभी खातों का अलग-अलग पासवर्ड रखें। फेंक प्रोफाइल आदि बनाना जुर्म है।

एस़ पी़ साइबर सेल ने कहा कि किसी भी अनजान व्यक्ति की फ्रेंड रिक्वेस्ट स्वीकार नहीं करें। जो काम रियल लाइफ में नहीं करते वह काम वर्चुअल लाइफ में कदापि नहीं करें। पर्सनल फोटो फेसबुक और वाटसएप जैसी सोशल साइट में नहीं डालें। किसी का ऑनलाइन पीछा करना भी सायबर क्राइम है।

loading...
शेयर करें