Cyclone Yaas: मछुआरों के नावों को भारी नुकसान, जिले में बाढ़ जैसे हालात, देखें Video

ओडिशा और पश्चिम बंगाल में चक्रवात तूफान यास (Cyclone Yaas) के वजह से ओडिशा के पारादीप में मछली पकड़ने वाली नावों को नुकसान पहुंचा है

नई दिल्ली: ओडिशा (Odisha) और पश्चिम बंगाल (West Bengal)  में चक्रवात तूफान यास (Cyclone Yaas) ने भारी तबाही मचाई है। ओडिशा के धामरा (Dhamra) में चक्रवात ‘यास’ की वजह से हुई भारी बारिश और तेज हवाओं से कई पेड़ गिर जाने से रास्ते बंद हो गए हैं। NDRF और दमकल विभाग की टीम राहत कार्यों में लगी है। पेड़ों को रास्ते से हटाया जा रहा है।

ओडिशा के भद्रक जिले के धामरा में चक्रवात यास की वजह से बाढ़ जैसे हालात बन गए हैं। पारादीप (Paradip) में चक्रवात ‘यास’ की वजह से मछली पकड़ने वाली नावों को नुकसान पहुंचा है।

IMD रिपोर्ट

मौसम विभाग (IMD) के मुताबिक, चक्रवात तूफान यास (Cyclone Yaas अक्षांश 21.6°N/लंबी 86.7°E के पास पूर्वोत्तर ओडिशा पर 1430 बजे IST पर केंद्रित, बालासोर के लगभग 25 किमी पश्चिम-उत्तर-पश्चिम में 90-100 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से 110 किमी प्रति घंटे की हवा की गति के साथ। अगले 03 घंटे के दौरान उत्तर-पश्चिम की ओर बढ़ने और धीरे-धीरे एक चक्रवाती तूफान में कमजोर होने की संभावना है।

बंगाल में तूफान का कहर

पश्चिम बंगाल के नॉर्थ 24 परगना के नैहाटी और हलिशहर में चक्रवात हवा ने कईं घरों को नुकसान पहुंचाया। इस दौरान बिजली के खंभों और तारों को भी नुकसान पहुंचा है। एक महिला ने बताया, हमने 2-3 महीने पहले घर बनाया था। अचानक तूफान आया और 2 सेकंड में सबकुछ उड़ गया। हम लोग बहुत डरे हुए हैं। पूर्वी मिदनापुर (Midnapore) के दीघा में तेज हवाओं के साथ समुद्र में ऊंची लहरें उठ रही हैं।

पश्चिम बंगाल (West Bengal) की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी (Mamata Banerjee) ने नाबाना में चक्रवात ‘यास’ को देखते हुए जिलाधिकारियों और जिला प्रबंधन कमेटी और अन्य अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक की है।

यह भी पढ़ेसावधान…झारखंड में Cyclone Yaas की चेतावनी, असम, मेघालय में भारी बारिश का अलर्ट

Related Articles