खतरनाक: इस राज्य में Black Fungus से अब तक 52 लोगों की मौत, 8 को हुआ अंधापन

महाराष्ट्र में पिछले साल कोविड-19 फैलने के बाद से अब तक Mucormycosis से 52 लोगों की मौत हो गई है.

मुंबई: कोरोना महामारी के बीच महाराष्ट्र से बेहद चिंताजक खबर आई है. यहाँ ‘Black Fungus’ Mucormycosis फंगल इन्फेक्शन तेज़ी से पैर पसार रहा है. अबतक इससे 52 लोगों की मौत हो गई है. हेल्थ डिपार्टमेंट के एक अधिकारी ने शुक्रवार को इस बारे में जानकारी देते हुए कहा कि इनमें से सभी कोरोना इन्फेक्शन से स्वस्थ हो गए थे. बता दें कि Mucormycosis को Black Fungus के नाम से भी जाना जाता है. Covid-19 संक्रमण से स्वस्थ हो रहे और स्वस्थ हो चुके कुछ रोगियों में यह बीमारी मिली है. इस Black Fungus संक्रमण के मरीजों में सिर में दर्द, बुखार, आखों में दर्द, नाक में इन्फेक्शन और आंशिक रूप से अंधापन होने जैसे सिम्टमस देखे जा रहे हैं.

महाराष्ट्र में Mucormycosis फंगल इन्फेक्शन के 1,500 मामले

हेल्थ डिपार्टमेंट के अधिकारी ने नाम जाहिर नहीं होने की शर्त पर एक समाचार चैनल को बताया कि पहली बार राज्य के हेल्थ डिपार्टमेंट ने ब्लैक फंगस के कारण मरने वाले लोगों की लिस्ट तैयार की है. महाराष्ट्र के हेल्थ मिनिस्टर राजेश टोपे ने बुधवार को कहा था कि प्रदेश में Black Fungus के 1,500 मामले हैं. Mucormycosis के मामले बढ़ने से प्रदेश के स्वास्थ्य देखभाल ढांचे पर बोझ बढ़ सकता है जो पहले ही दबाव में है.

ब्लैक फंगस संक्रमण ने बढ़ाईं महाराष्ट्र की स्वस्थ्य विभाग की मुश्किलें

महाराष्ट्र के स्वस्थ्य मंत्री ने कुछ दिन पहले कहा था कि प्रदेश Mucormycosis के रोगियों के इलाज के लिए एक लाख Amphotericin-B फंगस रोधी इंजेक्शन खरीदने के लिए निविदा निकालेगा. Black Fungus से मरने वाले लोगों की दर अधिक है और इसने स्वास्थ्य विभाग की मुश्किलें बढ़ा दी हैं जिसने अपने सभी संसाधनों को कोविड-19 से लड़ने में लगा रखा है.

हेल्थ डिपार्टमेंट के सूत्र ने बताया कि Covid-19 के मामले बढ़ने और Black Fungus संक्रमण बढ़ने की रिपोर्टों के बाद प्रदेश ने आंकड़ें जुटाने तैयार कर दिए हैं. इससे पता चला कि Black Fungus संक्रमण से 52 लोगों की मौत हो चुकी है. उन्होंने बताया कि सभी 52 मरीजों की मौत देश में कोरोना वायरस संक्रमण फैलने के बाद हुई.

8 लोगों को एक आंख से दिखना बंद

हेल्थ मिनिस्टर राजेश टोपे ने कहा कि Mucormycosis के इलाज में कई विषयों में विशेषज्ञता की आवश्यकता होती है क्योंकि यह फंगल इन्फेक्शन नाक, आंख के जरिए फैलता है और मस्तिष्क तक पहुंच सकता है. महाराष्ट्र की सरकार ने माना है कि प्रदेश में Mucormycosis के कारण कम से कम 8 मरीजों को एक आंख से दिखना बंद हो गया है.

ये भी पढ़ें : बिहार में Corona का सुनामी जारी, फिर बढ़ा Lockdown, जानें कब तक रहेंगी पाबंदियां

 

Related Articles

Back to top button