नाबालिग लड़की के साथ खेला खतरनाक खेल पहले दोस्ती के जाल में फंसाया,और फिर हुआ…  

0

नई दिल्ली:दिल्ली के सरिता विहार इलाके से एक ऐसी खबर आयी है कहा जाता है की लोग बदला लेने के लिए क्या कुछ नही करते, ऐसे ही यह घटना सामने आयी है साथियों के साथ युवक को हनीट्रैप में फंसा दिया। युवक को जेल भी हो गई। इस तरह युवक का करियर बर्बाद हो गया। वह हायर एजुकेशन के लिए विदेश जाना चाहता था। सरिता विहार थाना पुलिस ने मामला दर्ज कर हनीट्रैप में फंसाने वाले एक आरोपी को गिरफ्तार कर लिया है।

दक्षिण-पूर्व जिला पुलिस अधिकारियों के अनुसार, पुष्कर हीरा नाम का युवक तीन महीने पहले एक नाबालिग लड़की से फेसबुक के जरिए मिला था। दोनों के बीच चैटिंग होने लगी। इसके बाद लड़की ने हीरा के खिलाफ दुष्कर्म, जान से मारने की धमकी देने और पॉक्सो के तहत केस दर्ज करा दिया था।पुलिस ने पुष्कर हीरा को गिरफ्तार कर 27 जून को जेल भेज दिया था। पुष्कर के पिता प्रमोद कुमार ने शिकायत में कहा कि तीन जुलाई को उसके पास जावेद का फोन आया और कहा कि उसका बेटा जेल में परेशानी में है और वह महेंद्र के साथ मिलकर केस को सेटल कर सकता है।
जावेद ने केस को सेटल करने के लिए प्रमोद से पहले 20 लाख रुपये मांगे। बाद में ये रकम 12 लाख रुपये कर दी गई। प्रमोद कुमार ने इसकी शिकायत सोमवार को सरिता विहार थाने में दी थी। पुलिस ने मामला दर्ज कर महेंद्र को गिरफ्तार कर लिया। महेंद्र ने बताया कि उसका प्रमोद कुमार के साथ पुराना प्रॉपर्टी का विवाद है और प्रमोद वर्ष 2017 में कोर्ट में केस जीत गया था। बदला लेने के लिए महेंद्र ने जावेद, लड़की व उसकी मां के साथ मिलकर प्रमोद कुमार से बदला लेने के लिए साजिश रची।
मां ने अपनी नाबालिग बेटी को पुष्कर हीरा से दोस्ती करने व नजदीकियां बढ़ाने को कहा। हालांकि, प्रमोद कुमार ने कहा कि उसके व महेंद्र के बीच कोई प्रॉपर्टी विवाद नहीं है। महेंद्र डॉक्टर को हनीट्रैप में फंसाने के आरोप में वर्ष 2018 में गिरफ्तार हो चुका है। पुलिस फरार आरोपियों की तलाश कर रही है।
loading...
शेयर करें