न्यूज़ एंकर अमीश देवगन की बढ़ी मुश्किलें, दरगाह पुलिस करेगी जाँच

अमीश देवगन की कथित टिप्पणियों के खिलाफ दर्ज मामलों की संयुक्त जांच अब राजस्थान के अजमेर की दरगाह थाना पुलिस करेगी

अजमेर: सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन हसन चिश्ती के खिलाफ टीवी एंकर अमीश देवगन की कथित टिप्पणियों के खिलाफ दर्ज मामलों की संयुक्त जांच अब राजस्थान के अजमेर की दरगाह थाना पुलिस करेगी।

उच्चतम न्यायालय के आदेश पर अब इन मामलों की जांच दरगाह पुलिस करेगी। दरगाह थाने में टिप्पणियों के खिलाफ मुस्लिम समुदाय ने सबसे पहले कड़ा एतराज करते हुए थाने में ही मुकदमा दर्ज कराया था।

उसके बाद देश के विभिन्न हिस्सों में अलग अलग लोगों ने मुकदमे दर्ज कराए लेकिन उच्चत्तम न्यायालय की खंडपीठ ने सभी मुकदमों की जांच एक ही जगह दरगाह थाने में कराए जाने के निर्देश दिए हैं।

दरगाह थाने में इस संबंध में दंड संहिता 153बी, 295ए, 298 व आईटी एक्ट की धारा 66 के तहत मुकदमा दर्ज है। आरोप है कि टीवी एंकर अमीश देवगन ने 15 जून 2020 को कार्यक्रम की बहस के दौरान ख्वाजा साहब पर अनर्गल टिप्पणी की थी।

एंकर अमीश देवगन की याचिका ख़ारिज 

सूफी संत ख्वाजा मोइनुद्दीन चिश्ती के खिलाफ कथित अपमानजनक टिप्पणी के मामले में दर्ज एफआइआर को रद करने की मांग करने वाले टीवी न्यूज एंकर अमिश देवगन की याचिका को सुप्रीम कोर्ट ने सोमवार को खारिज कर दिया।

हालांकि, उन्हें मामले की जांच पूरी होने तक किसी भी सख्त कार्रवाई से सुरक्षा प्रदान की है। इसके लिए देवगन को जांच में सहयोग करना होगा।

यह भी पढ़े: अमेरिका के कारण कोरोना वैक्सीन खरीदने में असमर्थ है ईरान

Related Articles

Back to top button