लगातार दो बार शतक से चूकने पर डेविड मलान ने मजाकिया अंदाज में दिया जवाब

केपटाउन: अपनी 99 रन की शानदार नाबाद पारी से इंग्लैंड को दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अंतिम टी-20 मैच जिताने वाले विश्व के नंबर एक बल्लेबाज डेविड मलान ने शतक पूरा नहीं हो पाने को लेकर मजाकिया अंदाज में कहा कि उन्हें अब मैथ्स की क्लास में लौटना होगा।

दो बार शतक से चूके मलान

लक्ष्य का पीछा करते हुए मलान के पास अपना दूसरा टी-20 शतक पूरा करने का मौका था लेकिन कुछ गलतफहमी के चलते उनके हाथ से यह मौका निकल गया। मलान 18वें ओवर की तीसरी गेंद पर चौका लगाकर 98 रन पर पहुंच गए और दोनों टीमों का स्कोर भी बराबर हो गया। मलान को शतक पूरा करने के लिए चौका लगाना था लेकिन वह अगली गेंद पर सिंगल के लिए दौड़ पड़े और 99 रन पर नाबाद रह गए।

‘मुझे शतक के बारे में पता होना चाहिए था’

मैच के बाद मलान ने कहा, “ईमानदारी से कहूं तो मुझे शतक के बारे में पता होना चाहिए था लेकिन कुछ भी हो मैं सिंगल के लिए जरूर दौड़ता। शायद अब मुझे मैथ्स क्लास में लौटना होगा।” उन्होंने कहा कि उन्हें लगा था कि मैच जीतने के लिए पांच रन चाहिए थे लेकिन वह एक रन इसलिए भागे क्योंकि उन्हें पता नहीं था कि अगर वह एक रन नहीं लेंगे तो क्या होगा।

मलान ने अंत तक खेलते हुए नाबाद 99 रन ठोके। उनके पास हालांकि इस दौरान अपना शतक पूरा करना का मौका था लेकिन उन्होंने 98 रन पर खेलते हुए एक रन ले लिया जिससे मैच वहीं समाप्त हो गया था। मलान चौका या छक्का भी लगा सकते थे और इसके लिए उनके पास पर्याप्त गेंदें भी थीं।

मलान हालांकि शतक नहीं जड़ सके लेकिन टीम की जीत में अहम भूमिका निभा गए। उन्होंने कहा, “मेरे पास लय थी और जोस बटलर ने पारी की इतनी तेज शुरुआत नहीं की जितनी वह आम तौर पर करते हैं। मुझे पता है कि मेरे पास ताकत है और उसका इस्तेमाल सही समय पर करना है।”

यह भी पढ़ें: अफ्रीका को क्लीन स्वीप कर इंग्लैंड ने हासिल किया नंबर 1 का ताज

Related Articles

Back to top button