आप और कांग्रेस ने मोर्चा खोला, जेटली से इस्तीफे की मांग

0

vbk-17-Jaitley_jpg_1985703f

नई दिल्ली। डीडीसीए अनियमितता मामले में आम आदमी पार्टी और कांग्रेस ने वित्त मंत्री अरुण जेटली का इस्तीफा मांगा है। कांग्रेस ने इस मामले में जांच आगे बढ़ाने को लेकर केजरीवाल सरकार पर ढीला रवैय्या अपनाने का आरोप लगाया है।

वहीं, आम आदमी पार्टी ने कहा कि जेटली ने क्रिकेट को कीचड़ बना दिया और उनकी सपंत्ति साल में करोड़ों रुपए बढ़ गई। आम आदमी पार्टी के नेता संजय सिंह ने पांच अगस्त 2014 का एक पत्र मीडिया को दिखाया, जिसमें डीडीसीए घोटाले की जांच की मांग की गयी थी। इसमें भाजपा सांसद व पूर्व क्रिकेटर कीर्ति आजाद के द्वारा संसद में उठाये गये मुद्दे का भी उल्लेख है। संजय सिंह ने कहा है कि उन्होंने गृह मंत्रालय ने ही खेल मंत्रालय को चिट्ठी लिख कर डीडीसीए मामले की जांच करने को कहा था।

कांग्रेस ने डीडीसीए की गड़बड़ियों की जांच के लिए संयुक्त संसदीय समिति बनाने की मांग की और जेटली का इस्तीफा भी मांगा।

जेटली 1999 से लेकर 2013 तक दिल्ली एंड डिस्ट्रिक्ट क्रिकेट एसोसिएशन यानि डीडीसीए के चेयरमैन रहे। आरोप है कि इस दौरान डीडीसीए में बड़े पैमाने पर गड़बड़ियां हुईं। कुछ क्रिकेटरों की शिकायत पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने डीडीसीए मामले की जांच के लिए 12 नवंबर को एक कमेटी बना दी थी जिसकी रिपोर्ट तीन दिन में आ गई थी।

इसके बाद मामले की जांच में देरी को लेकर कांग्रेस केजरीवाल सरकार की मंशा पर सवाल उठा रही है। अजय माकन कहते हैं कि कंपनी एक्ट के तहत जांच संभव नहीं। उसे कोर्ट मानीटर्ड सीबीआई जांच की मांग करनी चाहिए।

loading...
शेयर करें