#DDvsKXIP: अपने घर में भी हार का सिलसिला नहीं तोड़ सकी दिल्ली डेयरडेविल्स

नई दिल्ली। किंग्स इलेवन पंजाब ने सोमवार को आईपीएल 2018 के लो स्कोरिंग मैच में दिल्ली डेयरडेविल्स को 4 रनों से हराया। क्रिस गेल के ‍बगैर खेल रही पंजाब ने 8 विकेट पर 143 रन बनाए। इसके जवाब में श्रेयस अय्यर की फिफ्टी (57) के बावजूद दिल्ली 8 विकेट पर 139 रन ही बना पाया। अंकित राजपूत मैन ऑफ द मैच बने। यह पंजाब की 6 मैचों में पांचवीं जीत है और वह 10 अंकों के साथ पुन: शीर्ष पर पहुंच गया। उसने इस लीग में दिल्ली पर दूसरी जीत दर्ज की। दिल्ली की यह छह मैचों में पांचवीं हार है।

punjab

144 रनों से आसान से लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली को पदार्पण कर रहे युवा बल्लेबाज पृथ्वी शॉ ने अच्छी शुरूआत दी। उन्होंने तेजी से 10 गेंदों में चार चौकों की मदद से 22 रन बनाए। इससे आगे वो जा पाते उससे पहले ही अंकित राजपूत ने उन्हें बोल्ड कर दिया।

यहां से दिल्ली संभल नहीं पाई और लगातार विकेट खोने लगी। गौतम गंभीर (4), ग्लेन मैक्सवेल (12), ऋषभ पंत (4), डेनियल क्रिस्टियन (6) जल्दी-जल्दी पवेलियन लौट लिए। दिल्ली ने 76 रनों पर ही अपने पांच विकेट खो दिए थे। यहां से अय्यर और तेवतिया ने संघर्ष किया और टीम के जीत के करीब ले जाने लगे। 123 के कुल स्कोर पर तेवतिया को एंड्रयू टाई ने पवेलियन भेज दिया। यहां से पंजाब एक बार फिर मैच में आ गई थी। अंत में अय्यर का संघर्ष जाया गया और दिल्ली अपने घर में खेल रहे पहले मैच में जीत हासिल नहीं कर सकी।

इससे पहले दिल्ली डेयरडेविल्स के गेंदबाजों ने पंजाब को 20 ओवरों में आठ विकेट के नुकसान पर 143 रनों पर ही रोक दिया।

पंजाब अच्छी शुरूआत से महरूम रही और दूसरे ओवर में ही आवेश की गेंद को मारने के प्रयास में एरॉन फिंच, श्रेयस अय्यर के हाथों शॉर्ट कवर पर लपके गए।

राहलु ने मंयक के साथ पारी को आगे बढ़ाया। दोनों तेजी से रन बना रहे थे। दोनों ने तीसरे ओवर में बाउल्ट पर 14 रन लिए। इस आक्रामक रवैये को राहुल ज्यादा देर कायम नहीं रख पाए और पांचवें ओवर में दूसरी गेंद पर अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे प्लंकट की गेंद पर शॉर्ट फाइन लेग पर आवेश द्वारा लपके गए। राहुल ने 23 रन बनाए।

मयंक भी अपनी अच्छी शुरूआत को बड़ी पारी में नहीं बदल पाए। वो प्लंकट की गेंद पर 60 के कुल स्कोर पर बोल्ड हो गए। मयंक ने 16 गेंदों में तीन चौकों की मदद से 21 रन बनाए। युवराज सिंह सिर्फ 14 रनों का योगदान दिया। डेविड मिलर को दो बार जीवनदान मिला। एक बार मैक्सवेल ने छह के निजी स्कोर पर उनका कैच टपकाया तो दूसरी बार अपना पहला आईपीएल मैच खेल रहे युवा पृथ्वी शॉ ने उन्हें 10 के निजी स्कोर पर एक और मौका दिया।

करूण नायर अच्छी लय में दिख रहे थे और अंत में उनसे पंजाब को बड़े शॉट्स की उम्मीदें थीं। 17वें ओवर में प्लंकट ने छोर बदला और नायर उनकी गेंद को सीमा रेखा के पार पहुंचाने के प्रयास में बाउंड्री पर अय्यर के हाथों लपके गए। थोड़ी देर बाद मिलर भी 26 रन बनाकर चलते बने। अंत में दिल्ली के गेंदबाजों ने पंजाब के बल्लेबाजों पर दबाव बनाय्ते रखा और मैच को अपने पाले में कर लिया।

Related Articles