दिल्ली रेफेर होने से पहले सांसद रीता बहुगुणा की पोती की मौत, पटाके से हुए हादसे में झुलस गई थी मासूम

दिवाली की रात में छत पर बच्चों के साथ खेलते समय पटाखा फटने के कारण यह हादसा हुआ जिससे किया काफी झुलस गई जिसके बाद उन्हें प्रयागराज के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

प्रयागराज: बीजेपी नेता और प्रयागराज से सांसद रीता बहुगुणा जोशी की पोती की आज सुबह इलाहाबाद के एक अस्पताल में मौत हो गई। रीता बहुगुणा जोशी की पोती आज इलाज के लिए दिल्ली स्थानान्तरित की जाने वाली थी पर उससे पहले ही उसकी मौत हो गई।

पटाखा फटने के कारण हुआ था हादसा

‘किया’ रीता बहुगुणा जोशी के बेटे मंयक की बेटी थी जिसकी उम्र महज 6 साल थी। दिवाली की रात में छत पर बच्चों के साथ खेलते समय पटाखा फटने के कारण यह हादसा हुआ जिससे किया काफी झुलस गई जिसके बाद उन्हें प्रयागराज के एक अस्पताल में भर्ती कराया गया।

दिल्ली के मिलीट्री अस्पताल में होना था इलाज

पटाखे फटने के कारण किया के कपड़े में आग लग गई जिससे उनका शरीर लगभग 60 प्रतिशत तक जल गया। अस्पताल में भर्ती कराने के बाद किया की हालत लगातार बिगड़ती जा रही थी जिसके कारण उसे आज दिल्ली मिलीट्री अस्पताल में इलाज के लिए भेजा जाना था परन्तु उससे पहले ही किया ने आज सुबह दम तोड़ दिया।

रीता बहुगुणा जोशी प्रयागराज से बीजेपी की सीट पर सांसद है और दिपावली के त्यौहार पर उनका पूरा परिवार प्रयागराज में ही था। रीता जोशी के बेटे मयंक की बेटी किया छत पर बच्चों के साथ थी जब यह हादसा हुआ।

प्रयागराज सांसद ने रक्षामंत्री और मुख्यमंत्री से की थी इलाज की बात

बच्ची को आज सुबह एयर एंबुलेंस के जरिए दिल्ली के मिलीट्री हॉस्पिटल शिफ्ट किया जाना था। दिवाली की रात हुए हादसे के बाद सांसद रीता बहुगुणा जोशी ने अपनी पोती के इलाज के लिए रक्षामंत्री राजनाथ सिंह, केंद्रीय मंत्री हर्षवर्धन सिंह और उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से बात की थी।

बच्ची की मृत्यु के बाद प्रयागराज में रीता बहुगुणा जोशी के बेटे मयंक का इंतजार किया जा रहा है जो कि इस वक्त दिल्ली में है।

ये भी पढ़ें : लाजपत राय की 92 वीं पुण्यतिथि पर जावड़ेकर और नकवी ने दी भावपूर्ण श्रद्धांजलि

Related Articles

Back to top button