फ्लाइओवर ढहने की वजह से हुई थी मजदूर की मौत, बिल्डर अरेस्ट

नई दिल्ली। कंस्ट्रक्शन फर्म पांडा इन्फ्रा के प्रमुख प्रताप पांडा को शुक्रवार को फ्लाईओवर ढहने के मामले में गिरफ्तार किया गया। कंपनी यहां बोमिखल फ्लाईओवर का निर्माण कर रही थी, जिसका एक हिस्सा गिरने से गुरुवार को एक मजदूर की मौत हो गई, जबकि दूसरा घायल हो गया। पांडा को भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की विभिन्न धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है।

पुलिस आयुक्त वाई. बी. खुरानिया ने कहा, “यह काफी गंभीर मामला है और इसके लिए जो भी दोषी पाए जाएंगे, उन्हें गिरफ्तार किया जाएगा।” फ्लाईओवर निर्माण स्थल के पास गुरुवार शाम लोहे की छड़ों का ढेर गिरने पर उसमें दबकर एक मजदूर की मौत हो गई और दूसरा गंभीर रूप से जख्मी हो गया।

मृतक की पहचान सुंदरगढ़ के अजय वुमिचा (38) के रूप में की गई है, जिनकी मृत्यु अस्पताल में हुई। वहीं घायल कुमार नायक की हालत गंभीर है, जिन्हें शहर के एएमआरआई अस्पताल भेजा गया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने मामले की उच्चस्तरीय जांच के आदेश दिए हैं। उन्होंने मृतक के रिश्तेदार को पांच लाख रुपये की अनुग्रह राशि देने की घोषणा की।

पिछले साल सितंबर में भी इसी फ्लाईओवर का एक हिस्सा बैठ गया था, जिसमें एक आदमी की मौत हो गई थी और 11 अन्य घायल हो गए थे। ओडिशा विधानसभा में नेता प्रतिपक्ष नरसिंह मिश्रा ने पटनायक सरकार पर दोषारोपण करते हुए कहा कि सरकार की अक्षमता और व्यापक भ्रष्टाचार के कारण यह हादसा हुआ है।

Related Articles