केजरीवाल सरकार का फैसला, दिल्ली में बैन होंगे पटाखे

कोरोना के कारण दिल्ली में बैन हो सकते हैं पटाखे, समीक्षा बैठक में होगा फैसला

दिल्ली: कोरोना बना काल, दिल वालों की दिल्ली में पटाखों पर लग सकता है प्रतिबंध, मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि पटाखों पर बैन को लेकर फैसले पर गुरुवार को समीक्षा बैठक में विचार किया जाएगा।

समीक्षा बैठक

कोरोना के बढ़ते मामलों को लेकर सीएम अरविंद केजरीवाल ने समीक्षा बैठक बुलाई हैं। इसी बैठक में यह भी फैसला लिया जाएगा कि दिवाली के मद्देनजर ‘पटाखों पर बैन लगाया जाए या नहीं’।

कोविड-19 में तेज वृद्धि

देश की राजधानी दिल्ली में नए कोविड-19 के मामलों में तेजी से वृद्धि के कारण केजरीवाल सरकार काफी परेशान है। आपकी जानकारी के लिए यह बता दे की इससे पहले राजस्थान सरकार ने पटाखों पर बैन लगाने का ऐलान कर चुकी है।

दिल्ली में कोरोना संक्रमण का आंकड़ा

दिल्ली में कोविड-19 का आंकड़ा अब तक का सारे रेकॉर्ड को तोड़ चुका है। पिछले 24 घंटों में 6,725 नए कोरोना केस सामने आ गए है। इस दौरान 48 कोविड-19 मरीजों की मौत भी हो गई। दिल्ली सरकार का कहना है कि कोविड मरीजों की संख्या में तेजी से वृद्धि के कारण ज्यादा टेस्टिंग बड़ी वजह है।

कोविड-19 की तीसरी लहर

सीएम अरविंद केजरीवाल और स्वास्थ्य मंत्री सत्येंद्र जैन, दोनों मंत्री ये स्वीकार कर चुके हैं की दिल्ली में कोविड-19 महामारी की तीसरी लहर चल रही है। सीएम अरविंद केजरीवाल बोले, दिल्ली में ‘कोरोना वायरस की तीसरी लहर’।

हवा में नमी और प्रदूषण

एम्स के डायरेक्टर ‘डॉ. रणदीप गुलेरिया’ ने चेतावनी दी है कि ‘लोगों ने मास्क पहनने के सुझाव को गंभीरता से नहीं लिया तो आने वाले दिनों में महामारी और भयंकर रूप में सामने आ सकती है’। यह आशंका जताई जा रही है कि हवा में नमी और प्रदूषण की मात्रा बढ़ने के कारण कोरोना वायरस काफी घातक साबित हो रहा है।

यह भी पढ़े:“गॅाड्स ओन कंट्री” केरल में मामला दर्ज करने से पहले सीबीआई को लेनी होगी अनुमति

यह भी पढ़े:रुझानों के बीच ट्रंप ने लगाया वोटों की गिनती में फ्रॉड वोट का आरोप

Related Articles

Back to top button