शेयर बाजार में गिरावट, तिमाही नतीजों से तय होगी बाजार की चाल

कोरोना बना काल, शेयर बाजार के स्तर में गिरावट, तिमाही नतीजों से तय होगी बाजार की चाल

मुंबई: वैश्विक स्तर पर कोरोना वायरस संक्रमण के मामलों में बढ़ोतरी होने और अमेरिका में ‘प्रोत्साहन पैकेज’ की घोषणाओं को लेकर बनी अनिश्चितता के कारण बीते सप्ताह घरेलू शेयर बाजार का स्तर ढाई फीसदी से अधिक फिसल गया और अगले सप्ताह भी वैश्विक कारक और कंपनियों के तिमाही परिणामों से बाजार की चाल तय होगी।

30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक

समीक्षाधीन अवधि में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 2.63 प्रतिशत अर्थात 1071.43 अंक टूटकर 40 हजार अंक के मनोवैज्ञानिक स्तर से नीचे 39614.07 अंक पर आ गया। इस दौरान नेशनल स्टॉक एक्सचेंज (एनएसई) का निफ्टी 2.41 प्रतिशत अर्थात 287.95 अंक गिरकर 11642.40 अंक पर रहा।

बीएसई का मिडकैप

इस अवधि में बीएसई का मिडकैप 0.48 प्रतिशत अर्थात 71.48 अंक उतरकर 14904.62 अंक पर और स्मॉलकैप 1.63 प्रतिशत अर्थात 246.51 अंक टूटकर 14888.08 अंक पर रहा।

प्रोत्साहन पैकेज

विश्लेषकों का कहना है कि अभी भी वैश्विक स्तर पर कोरोना के मामलों में कोई कमी नहीं आयी है। इसके साथ ही अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के बीच आर्थिक प्रोत्साहन पैकेज जारी किये जाने की संभावना बहुत कम दिख रही है। इसका असर वैश्विक बाजार पर दिख सकता है। साथ ही घरेलू स्तर पर कंपनियों के तिमाही परिणामों के साथ ही अर्थव्यवस्था से जुड़े आंकड़ों का असर भी बाजार पर दिख सकता है।

यह भी पढ़े:रसोई के बजट में राहत, सब्सिडी वाले गैस सिलेंडर के दाम में कोई बदलाव नहीं

यह भी पढ़े:प्रयागराज माघ मेले में ‘दाे गज की दूरी- मास्क जरूरी’, श्रद्धालुओं को मिलेगा पर्याप्त गंगाजल

 

 

Related Articles

Back to top button