गंगा यात्रा के आगमन पर बिठूर व अटल घाट पर होगा दीपदान और महाआरती

कानपुर: बिजनौर से चली गंगा यात्रा 30 जनवरी को बिठूर में पूर्ण होगी, यहां पर गंगा घाट पर हजारों लोग दीपदान करेंगे। इसी तरह बलिया से चली गंगा यात्रा 31 जनवरी को कानपुर पहुंचेगी और अटल घाट पर हजारों लोग दीपदान करेंगे और महाआरती भी होगी। समारोहों में कई फिल्म अभिनेताओं व अभिनेत्रियों और लोक व शास्त्रीय संगीत से जुड़ी हस्तियां बुलाई जा रही हैं। आरती के लिए वाराणसी, इलाहाबाद, ऋषिकेश और हरिद्वार से पुरोहितों को आमंत्रण दिया गया है। धार्मिक कार्यक्रमों को भव्य रूप देने के लिए जिला प्रशासन ने तैयारियां शुरू कर दी हैं।

बिजनौर और बलिया से चलकर कानपुर में गंगा यात्रा के समागम पर दीपदान और आरती का महाआयोजन होगा। इसके लिए तैयारियां भी शुरू कर दी गई हैं और अफसरों ने बिठूर के ब्रह्मावर्त व अटल घाट का सुंदरीकरण शुरू करा दिया है। घाटों पर श्रद्धालुओं के बैठने के लिए कुर्सियों की व्यवस्था। जगह जगह गंगा के अवतरण से जुड़ी जानकारी दिखाई जाएगी। गंगा अवतरण से जुड़े चित्र बनाए जाएंगे। दोपहिया और चार पहिया वाहनों के पार्किंग की सुविधा। बोट में बैठकर गंगा के विहंगम दृश्य का नजारा लिया जा सकेगा।

गंगा यात्रा से पहले पत्थर घाट और ब्रह्मावर्त घाट की रंगत बदल जाएगी। वहां की सुंदरता में और चार चांद लग जाएंगे। पेयजल, शौचायल समेत अन्य सुविधाएं बढ़ाई जाएंगी। घाटों की रंगाई व पुताई होगी। कुछ जगहों पर टाइल्स और गंगा से जुड़ी कलाकृतियां स्थापित की जाएंगी। गंगा में मछलियों और बतखों को छोड़ा जाएगा। घाट पर रेलिंग लगाई जाएगी। ब्रह्मावर्त घाट पर नाला ‘पतितपावनी’ के पानी को दूषित कर रहा है। डीएम डॉ. ब्रह्मदेव राम तिवारी, एसएसपी अनंत देव तिवारी, नगर आयुक्त अक्षय त्रिपाठी ने दो दिन पूर्व ही घाट का निरीक्षण किया था। नाला रोकने के लिए कार्ययोजना बनाने के आदेश उन्होंने दिए हैं। इस दिशा में काम शुरू हो गया है।

Related Articles