बीजेपी की वजह से मंत्रिमंडल विस्तार में हो रही देरी – सीएम नीतीश

पटना : बिहार (Bihar) में सरकार के गठन के लगभग डेढ़ महीने के बाद भी मंत्रिमंडल के विस्तार (Cabinet expansion) को लेकर जारी अटकलों के बीच मुख्यमंत्री नीतीश कुमार (CM Nitish Kumar) ने कहा कि पहले इतनी देर नहीं होती थी, शुरू में ही यह काम कर लिया जाता था, जब सबकी सहमति होगी तक कैबिनेट का विस्तार होगा।

जनता दल यूनाइटेड (JDU) के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने शुक्रवार को यहां सात निश्चय पार्ट दो के तहत हर खेत तक सिंचाई का पानी पहुंचाने की योजना तथा मद्य निषेध से संबंधित समीक्षा बैठक के बाद पत्रकारों के सवालों का जवाब दिया।  बिहार भारतीय जनता पार्टी (BJP) प्रभारी भूपेंद्र यादव, भाजपा के प्रदेश अध्यक्ष डाॅ. संजय जायसवाल, उप मुख्यमंत्री तारकिशोर प्रसाद और रेणु देवी केे साथ हुई उनकी बातचीत के बारे में पूछने पर कहा कि कल हुयी मुलाकात में मंत्रिमंडल विस्तार के संबंध में कोई बातचीत नहीं हुई है। कल की मुलाकात में सहज बातचीत हुई है, कोई राजनीतिक बातचीत नहीं  हुई है।

सबकी सहमति पर ही होगा मंत्रीमंडल विस्तार

नीतीश कुमार (Nitish Kumar) ने कहा, “हमने आज अखबार में मंत्रिमंडल विस्तार (Cabinet expansion) की छपी खबर को देखा था। कैबिनेट के विस्तार में पहले इतनी देर कहां होती थी। पहले हम लोग शुरू में ही कैबिनेट विस्तार कर लेते थे। जब सबकी सहमति होगी तो मंत्रिमंडल का विस्तार होगा। अभी तो कैबिनेट में कुल मिलाकर 14 लोग हैं। बिहार के विकास के लिये हम लोग काम कर रहे हैं और जो हम लोगों का लक्ष्य है, उन सब चीजों पर कल बातचीत हुई है।

इसे भी पढ़े: बीजेपी की नीतियों ने अर्थव्यवस्था चौपट कर व्यापारियों को पहुंचाया नुकसान : सपा

पूर्व उप मुख्यमंत्री सुशील कुमार मोदी (Sushil Kumar Modi) को एक बार फिर से बिहार (Bihar) बुलाने की कोशिश के बारे में पूछे जाने पर कहा कि इसकी कोई जानकारी नहीं है। यह तो भाजपा के हाथ में है। उन्होंने कहा कि मोदी से उनका पुराना संबंध है। हम लोग बहुत दिनों तक एक साथ काम कर चुके हैं।

Related Articles