खाना देने में हुई देरी, तो बेटे ने मां को मारकर उसकी चिता पर बनाया चिकन

रांची ; झारखंड (Jharkhand) में एक दिल दहला देने वाला मामला सामने आया है। यहां एक बेटे ने खाना मिलने में हुई देरी पर अपनी वृद्ध मां को ही मार डाला। इतना ही नहीं मरने के बाद घर के आंगन में जलाकर उनकी चिता पर चिकन बनाकर खा गया। एक बेटे के इस कुकर्म की खबर जब ग्रामीणों को हुई तो गांव वालों ने आरोपी का हाथ- पैर रस्सी से बांध कर पुलिस को सूचना दी। मौके पर पहुंची पुलिस ने आरोपी को गिरफ्तार कर मामले की जांच शुरू कर दी है।

जानकारी के मुताबिक यह घटना झारखंड (Jharkhand) राज्य के पश्चिमी सिंहभूम (West Singhbhum) जिले के जोजोगुट गांव की है। यहां 35 वर्ष्रीय प्रधान सोय शुक्रवार की रात को करीब 8 बजे नशे की हालत में घर पंहुचा तो मां से खाना मांगा, खाना मिलने में देरी हुई तो उसने अपनी 60 वर्षीय मां सुमी सोय को लाठी से पीटने लगा और मां को तब तक मारता रहा, जबतक उनकी मौत नहीं हो गई। इसके बाद आरोपी ने घर के आंगन में ही लकड़ी और धान की भूसे से चिता जलाकर उस पर मुर्गा सेक कर खा गया। खाना खाने के बाद उसने अधजली लाश को छोड़कर घर में ही सो गया।

इसी तरह पिता को भी उतारा था मौत के घाट

आरोपी की भाभी सोमवारी सोय ने बताया कि शुक्रवार रात को हम और उसकी मां खाना खाकर सोने जा रहीं थी, तभी प्रधान सोय घर पंहुचा और उस मारने- पीटने लगा। अपनी जान बचाने के लिए वह अपने एक महीने के बच्चे को लेकर घर से भागकर एक पेड़ के नीचे रात काटी। सुबह होने के बाद जब वह घर पहुंची तो देखीं कि प्रधान अपनी मां की अधजली लाश को चूल्हे में डालकर जलाने जा रहा है, उसे देखने के बाद वह भागने लगा। जिसके बाद उन्होंने चिल्लाकर ग्रामीणों को आवाज लगाई, गुस्साएं गांव वालों ने दौड़ाकर उसे पकड़ लिया और हाथ – पैर रस्सी से बांध दिया। ग्रामीणों ने बताया कि इसी तरह वह 5 वर्ष पहले अपने पिता की भी हत्या कर चुका है और दो वर्ष पहले ही जेल से छूटकर घर आया है।

इसे भी पढ़े; ममता को बड़ा झटका, अमित शाह से मिलकर TMC के दिग्गज नेताओं ने थामा BJP का दामन

Related Articles

Back to top button