दिल्ली चुनाव: कपिल मिश्रा ने भड़काई हिंदू-मुसलमान की चिंगारी !

जैसे-जैसे दिल्ली (Delhi) विधानसभा के चुनाव नजदीक (Assembly Election) आ रहे हैं वैसे-वैसे देश में हिंदू-मुसलमान की आग को भड़काया जा रहा है। मॉडल टाउन विधानसभा सीट से भाजपा (BJP) प्रत्याशी (Candidate) कपिल मिश्रा (Kapil Mishra) ने इस मामले में एक ट्वीट करके इसको आगे बढ़ाने का काम किया है। कपिल मिश्रा ने अपने ट्वीटर अकाउंट पर एक पोस्ट करते हुए लिखा है कि 8 फरवरी को दिल्ली की सड़कों पर हिंदुस्तान और पाकिस्तान (India vs Pakistan) का मुकाबला होगा।

आपको बता दें कि दिल्ली में 8 फरवरी को विधानसभा चुनाव होने वाले हैं और ऐसे में कपिल मिश्रा ने कांग्रेस और आम आदमी पार्टी को पाकिस्तान की संज्ञा दे डाली है। कपिल मिश्रा के इस बयान के बाद अब विवाद होना लाजिमी है, क्योंकि देश में सीएए के खिलाफ हो रहे प्रदर्शन को भी राजनैतिक पार्टियों ने हिंदू-मुसलमान का रंग देना शुरू कर दिया है।

इससे पहले रक्षामंत्री राजनाथ सिंह 22 जनवरी को यूपी के मेरठ में कहा, ‘जो मुसलमान भारत का नागरिक है, उसे कोई चिमटे से भी नहीं छू सकता। अगर किसी को कोई शिकायत है, तो हमारे पास आ सकता है।’ उनके इस बयान के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने कह डाला था कि सरकार ने देश में सीएए को लागू करने के साथ ही हिंदू-मुसलमान कर दिया है। यह केंद्र सरकार की ही देन है। ओवैसी यहीं नहीं रूके और उन्होंने तो बजट से पहले होने वाली हलवा सेरेमनी पर भी सवाल खड़े कर दिए। ऐसे में यह कहना गलत नहीं होगा कि दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले देश में एक बार फिर हिंदू-मुसलमान के नाम पर जहर घोलने की कोशिश की जा रही है।

कपिल मिश्रा को भाजपा ने उम्मीदवार बनाया:

आम आदमी पार्टी सरकार में मंत्री रहे कपिल मिश्रा को भाजपा ने मॉडल टाउन से उम्मीदवार बनाया है। कपिल मिश्रा करावल नगर से विधायक थे, इन्होंने लंबे समय से आम आदमी पार्टी के खिलाफ मोर्चा खोला हुआ था। इसी प्रकार कांग्रेस पार्टी ने भी अल्का लांबा को चांदनी चौक से विधानसभा चुनाव के लिए प्रत्याशी बनाया है।

Related Articles