दिल्ली सरकार हुई सतर्क, इंग्लैंड से आने वाले यात्रियों की तैयार की सूची 

राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों में तेजी से आ रही गिरावट के बावजूद दिल्ली सरकार किसी भी तरह की ढील देने के पक्ष में नहीं है। 

नई दिल्ली: राजधानी में कोरोना वायरस संक्रमण के नये मामलों में तेजी से आ रही गिरावट के बावजूद दिल्ली सरकार किसी भी तरह की ढील देने के पक्ष में नहीं है। दिल्ली के मुख्य सचिव विजय कुमार देव ने अतिरिक्त मुख्य सचिव, प्रधान स्वास्थ्य सचिव, और मंडलीय आयुक्तों को बुधवार को सख्त आदेश दिए हैं। आदेश में कहा है कि ब्रिटेन में कोरोना के नये स्ट्रेन के मिलने के मद्देनजर नव वर्ष समारोहों को लेकर वह पूरी तरह से मुस्तैद रहें और कोविड-19 के केंद्र सरकार की ओर से जारी दिशा-निर्देशों का पूरी कड़ाई के साथ पालन कराएं।

विजय कुमार देव ने अधिकारियों को यह भी सख्त निर्देश दिए हैं कि इंग्लैंड (ब्रिटेन) में कोरोना वायरस के नये स्ट्रेन (प्रकार) के सामने आने के बाद बढ़ रहे है। वही मामलों को लेकर राजधानी के सभी जिलों में गंभीरता से दिशा निर्देशों का पालन सुनिश्चित करें।

उन्होंने अधिकारियों के साथ समीक्षा बैठक के दौरान यह भी सख्त निर्देश दिए हैं कि वह कोरोना वायरस को लेकर जारी किए गए दिशा-निर्देशों में बिल्कुल भी ढील नहीं बरते। मुख्य सचिव ने कोरोना के चलते नए साल के जश्न पर नजदीकी नजर रखने के सख्त निर्देश दिए हैं। उन्होंने दिल्ली के मंडलीय आयुक्त को यह भी सख्त निर्देश दिए हैं कि इंग्लैंड से आने वाले वायरस के खतरों के चलते नागरिक उड्डयन और आव्रजन विभाग से आने वाली सूचनाओं को संकलित करें।

ये भी पढ़ें : J&K में डीडीसी चुनाव में लोकतंत्र की हुई जीत-जेपी नड्डा

इंग्लैंड से आने वाले यात्रियों की एक सूची तैयार

उन्होंने कहा इंग्लैंड से आने वाले यात्रियों की भी एक सूची तैयार की गई है जिसे क्षेत्रीय जिलावार संकलित किया गया है। इसे जिलों की सर्वेक्षण टीमों को सर्विलांस और ट्रेसिंग/ ट्रेकिंग के लिए आवंटित किया गया है। साथ ही नागरिक उड्डयन और केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से जारी किए गए प्रोटोकॉल के मुताबिक सर्वेक्षण टीम ट्रेसिंग/ट्रेकिंग का काम करेंगी।

ये भी पढ़ें : बातचीत के जरिये किसानों के सभी मुद्दों का हल निकल सकता है: उपराष्ट्रपति

दिल्ली में बुधवार को जारी आंकड़े

दिल्ली में बुधवार को जारी आंकड़ों में पिछले 24 घंटे के भीतर आने वाले मरीजों की संख्या 939 दर्ज की गई थी। वहीं पॉजिटिविटी रेट 1.14 फ़ीसदी रिकॉर्ड किया गया। दिल्ली में कुल सक्रिय मरीजों की संख्या भी घटकर 8735 रह गई है।

Related Articles