J&K में डीडीसी चुनाव में लोकतंत्र की हुई जीत-जेपी नड्डा

जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा, “यह जम्मू-कश्मीर में ज़मीनी स्तर पर लोकतंत्र की मजबूती और इसमें वहां की जनता के दृढ़ होते विश्वास का परिचायक है।”

नई दिल्ली,  भारतीय जनता पार्टी (भाजपा ) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जगत प्रकाश नड्डा  (जेपी नड्डा) ने जम्मू-कश्मीर जिला विकास परिषद(डीडीसी) चुनाव नतीजों में भाजपा की जीत पर प्रसन्नता जाहिर करते हुए इसे भारत के लोकतंत्र की जीत बताया है। जेपी नड्डा ने बुधवार को कहा, “यह जम्मू-कश्मीर में ज़मीनी स्तर पर लोकतंत्र की मजबूती और इसमें वहां की जनता के दृढ़ होते विश्वास का परिचायक है।”

नड्डा ने सिलसिलेवार ट्वीट करते हुए कहा, “जम्मू-कश्मीर के डीडीसी चुनावों में भाजपा को अपने दम पर सबसे बड़ी पार्टी बनाने के लिए मैं जम्मू-कश्मीर की अवाम का दिल से आभार प्रकट करता हूँ। राज्य की जनता ने अपने मत के माध्यम से माननीय प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी जी के नेतृत्व, नीतियों और लिए गए निर्णयों में अपना विश्वास व्यक्त किया है। मैं विषम परिस्थितियों में भी पार्टी के लिए समर्पित भाव से काम कर रहे और परिश्रम की पराकाष्ठा पार करने वाले पार्टी कार्यकर्ताओं और राज्य भाजपा की पूरी टीम को बहुत – बहुत बधाई देता हूँ।”

पीएम मोदी के नेतृत्व में बीजेपी जम्मू कश्मीर के चौमुखी विकास के लिए प्रतिबद्ध

भाजपा अध्यक्ष ने कहा “प्रधानमंत्री मोदी जी के नेतृत्व में भारतीय जनता पार्टी जम्मू-कश्मीर के चहुंमुखी विकास के साथ-साथ यहां की जनता को देश के विकास की मुख्यधारा से जोड़ने के लिए कटिबद्ध है। जम्मू-कश्मीर की वंदनीय जनता ने लोकतंत्र के इस पर्व में इतनी बड़ी संख्या में भाग लेकर ‘एक भारत – श्रेष्ठ भारत’ के सिद्धांत में अपना संपूर्ण विश्वास व्यक्त किया है। यह वाकई क़ाबिले तारीफ़ है। इसके लिए मैं उनका हार्दिक अभिनंदन करता हूँ।”

इसे भी पढ़े; कृषि सुधार के पक्ष में तीन लाख से अधिक किसानों ने किए हस्ताक्षर

जेपी नड्डा ने कहा, “डीडीसी चुनावों में भाजपा को मिला हर वोट जम्मू-कश्मीर की जनता का देश की विकासवादी विचारधारा में विश्वास का प्रतीक है। राज्य की जनता ने देश के साथ-साथ विकास की यात्रा में कदम मिलाकर चलना तय किया है। मैं उन सभी के प्रति हार्दिक आभार प्रकट करता हूँ, जिन्होंने इन चुनावों को शांतिपूर्ण ढंग से पूरा कराने में महती भूमिका निभाई।”

उन्होंने कहा कि यह चुनाव कई मायनों में ऐतिहासिक है। यह जम्मू-कश्मीर के सुनहरे भविष्य की ओर रेखांकित करता है, जहां चहुँओर खुशहाली और समृद्धि होगी।

Related Articles