कृषि बिल के विरोध में देशभर में धरना प्रदर्शन, DM कार्यालय का किया घेराव

0

लखनऊ: कृषि बिल के विरोध में पूरे देश में धरना प्रदर्शन हो रहा है। भारी मात्रा में किसान सड़क पर उतरकर इस बिल का विरोध कर रहे हैं। इसी क्रम में राजधानी लखनऊ में भी कृषि बिल को लेकर भारी मात्रा किसान इकठ्ठा होकर बिल के खिलाफ प्रदर्शन किया। किसानों का कहना है कि इस बिल को तुरंत वापस लिया जाए।

किसानों का प्रदर्शन
किसानों का प्रदर्शन

किसानों ने किया प्रदर्शन

लखनऊ कलेट्रेट में कृषि विधेयक के विरोध में किसान यूनियन ने जोरदार विरोध किया। किसानों का आरोप है कि सरकार इस बिल को तुरंत वापस ले। वहीं इस बिल को लेकर किसानों में काफी आक्रोश देखा गया है। किसानों का कहना है- समर्थन मूल्य से कम पर फसल खरीद को अपराध की श्रेणी में शामिल किया जाए।

किसान यूनियन जिलाध्यक्ष सरदार गुरमीत सिंह ने कहा कि कृषि क्षेत्र में कंपनी राज स्थापित कर रहीं। इस कानून से कंपनी को बंधुआ बनाया जाएगा। कृषि में कानून नियंत्रण, मुक्त विपणन, भंडारण, आयात निर्यात, किसानों के हित में नहीं है। प्रदर्शन में बड़ी संख्या में महिलाएं भी शामिल हुई।

राजनीतिक पार्टियों का भी सपोर्ट

कृषि बिल के विरोध में प्रदर्शन कर रहे किसान के सपोर्ट में राजनीतिक पार्टियां भी सामने आ गई है। कांग्रेस नेता राहुल गांधी समेत विपक्ष के कई नेता इस बिल के विरोध को लेकर प्रदर्शन कर रहे हैं। राहुल गांधी ने ट्वीट करके सरकार को किसान विरोधी बताया है। राहुल गांधी ने राज्यसभा में बिल पास होने के बाद अपने ट्वीट में लिखा- जो किसान धरती से सोना उगाता है, मोदी सरकार का घमंड उसे ख़ून के आँसू रुलाता है। राज्यसभा में जिस तरह कृषि विधेयक के रूप में सरकार ने किसानों के ख़िलाफ़ मौत का फ़रमान निकाला, उससे लोकतंत्र शर्मिंदा है।

शेयर करें