यूपी में कोरोना के बाद डेंगू का कहर, सपा नेता के गई जान, मेदांता के था भर्ती

लखनऊ: उत्तर प्रदेश में बीते कुछ माह पहले कोरोना की दूसरी लहर से त्राहि-त्राहि मची हुई थी। वहीं राजधानी लखनऊ में कोरोना से मृतु के शवो के आंकड़ों से लोगो में डर बना हुआ था। वहीं आज कोरोना पर काबू पाने के बाद टायफायड, वायरल के बाद अब डेंगू का हमला तेज हो गया है। वहीं मंगलवार को जौनपुर के रहने वाले सपा नेता की डेंगू से लखनऊ के निजी अस्पताल में मौत हो गई। उनके इस दुखद खबर से समाजवादी पार्टी में दुख का माहौल बना हुआ है।

आपको बता दें कि बीते 10 दिनों में लखनऊ के सरकारी अस्पतालों में अब कोरोना मरीजो से ज्यादा अब टायफायड के पांच सौ से ज्यादा मरीज रोजाना आ रहे हैं। निजी अस्पतालों में भी इतने ही मरीज रोजाना पहुंच रहे हैं। जांच में डेंगू की पुष्टि के बाद परिजन सपा नेता केपी यादव को गंभीर अवस्था में सोमवार को मेदांता लेकर आए।

अस्पताल के निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने बताया कि डेंगू और बुखार से केपी यादव शॉक में चले गए थे, जिससे मंगलवार को उनकी मौत हो गई। डेंगू से हुई मौत की सूचना स्वास्थ्य विभाग को भेज दी गई है।

केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय की ओर से मंगलवार सुबह आठ बजे जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार, संक्रमण से 350 और लोगों की मौत के बाद मृतक संख्या बढ़कर 4,38,560 हो गई। मरीजों के ठीक होने की राष्ट्रीय दर 97.53 प्रतिशत है। देश में अभी तक कुल 52,15,41,098 नमूनों की कोविड-19 संबंधी जांच की गई है, जिनमें से 13,94,573 नमूनों की जांच सोमवार को की गई।

Related Articles