Denmark ने डब्लूएच्ओ की वकालत के बावजूद इस वैक्सीन को किया बैन

कोपेनहेगेन : Denmark ने कोरोना के बढ़ते खतरों के बीच ऑक्सफर्ड-एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन पर पाबंदी लगा दी है। ऐसी पाबंदी लगाने वाला डेनमार्क यूरोप का पहला देश बन गया है। डेनमार्क ने ऑक्सफोर्ड-एस्ट्राजेनेका वैक्सीन का यूज़ नहीं करने का फैसला किया है। डेनमार्क में कुछ लोगों के ख़ून में थक्के बनने की खबरों के बाद इस वैक्सीन के इस्तेमाल को रोक दिया गया था। लेकिन अब इस वैक्सीन के इस्तेमाल पर पूरी तरह से पाबंदी लगा दी गई है।

डेनमार्क के हेल्थ एडमिनिस्ट्रेटिव डिवीज़न की तरफ से आए बयान में कहा गया है कि एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन से मिले खतरनाक साइड इफेक्ट की वजह से यह फैसला लिया गया है। डब्लूएच्ओ के वैक्सीन की वकालत करने के बावजूद डेनमार्क का एस्ट्राजेनेका की वैक्सीन पर पाबंदी लगाना बहुत बड़ी बात मानी जा रही है।

कंपनी Denmark से लाखों वैक्सीन मंगाएगी वापस

डेनमार्क ने यह पाबंदी वैक्सीन दिए जाने के बाद कुछ लोगों के शरीर में खून के थक्के जमने के बाद लगाई है। हालांकि, जानकारों का दावा है कि ऐसी घटनाएं काफी कम हैं जिसमे शरीर में खून के थक्के जमे हो। बताया जा रहा है कि इस कदम से डेनमार्क में जारी वैक्सीनेशन प्रोग्राम को तगड़ा झटका लग सकता है। इस समय डेनमार्क में एस्ट्राजेनेका की 24 लाख कोविड वैक्सीन कई सेंटर्स पर मौजूद हैं, जिन्हें अब वापस मंगाया जा रहा है।

यह भी पढ़ें :   Ponzi किंग बर्नी मैडॉफ का निधन, नैस्डैक चैयरमेन से जेल तक के सफर की एक झलक

Related Articles