घना कोहरा बना तीन जिंदगियों का काल और कई लोग गंभीर घायल

उत्तर प्रदेश: चंदौली जिले में घना कोहरा तीन जिंदगियों का काल बन गया। तो वहीं कई लोग जख्मी हो गए। घायलों को अस्पताल में भर्ती कराया गया है।जिले के बलुआ थाना अंतर्गत भुपौली मथेला मार्ग पर अमरीपुर के पास मंगलवार देर रात कोहरे की वजह से रास्ता नहीं दिखा और अनियंत्रित स्कॉर्पियो नहर में पलट गई। इस हादसे से कार में सवार तीन लोगों की मौत हो गई, जबकि चार लोग जख्मी हो गए।
क्षेत्र के हुदहुदपुर निवासी शैलेश सिंह की तबीयत खराब है और बीएचयू में भर्ती हैं। मंगलवार की रात रामपुर प्रधान उमेश यादव की स्कॉर्पियो लेकर रामपुर निवासी राम प्रताप यादव(40), खंडवारी पीजी कॉलेज के पूर्व चीफ प्रॉक्टर ओमप्रकाश तिवारी(55) निवासी प्रभुपुर और भलेहटा निवासी भगेलू सिंह(45), प्रभुपुर निवासी गुप्तेश्वर त्रिपाठी(55), रामपुर निवासी विनोद(35), हूहूदीपुर निवासी मूलई राम(40) आदि बीएचयू शैलेश सिंह को देख कर वापस लौट रहे थे।
स्कॉर्पियो भलेहटा निवासी सूरज यादव(25) चला रहा था। रात में एक बजे के करीब कोहरे की वजह से कार अनियंत्रित होकर नहर में पलट गई। चीख पुकार सुनकर लोगों की भीड़ जुट गई।मौके पर पहुंची पुलिस ने जेसीबी की मदद से स्कॉर्पियो को बाहर निकाला और घायलों को पीएचसी पहुंचाया। यहां चिकित्सकों ने राम प्रताप यादव, ओमप्रकाश त्रिपाठी और भगेलू सिंह को मृत घोषित कर दिया। बाकी चारों घायलों की हालत गंभीर देख ट्रामा सेंटर रेफर कर दिया। पुलिस ने तीनों मृतकों के शवों को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है। इतनी बड़ी घटना से इलाके में खलबली मच गई है।

Related Articles