Deoria: फर्जी दस्तावेजों के सहारे बने शिक्षक, बीएसए (BSA) ने किया बर्खास्त

देवरिया: परिषदीय विद्यालयों में कार्यरत दो शिक्षकों (Teacher’s) को बीएसए (BSA) ने फर्जी और दस्तावेजों के आधार पर नौकरी करने के आरोप में मंगलवार को बर्खास्त कर दिया। जिन शिक्षकों को बर्खास्त किया गया है वे दोनों शिक्षक जिले के रुद्रपुर क्षेत्र में तैनात थे।

एसटीएफ ने किया था फर्जीवाड़े का खुलासा

जानकारी अनुसार एसटीएफ ने फर्जीवाड़े का खुलासा कर बेसिक शिक्षा अधिकारी को जानकारी दी थी। गोरखपुर एसटीएफ ने कुछ माह पूर्व बेसिक शिक्षा अधिकारी को रुद्रपुर क्षेत्र में दो शिक्षकों के फर्जी दस्तावेजों के आधार पर नौकरी करने के साक्ष्य सहित जानकारी दी थी।

फर्जी दस्तावेज के सहारे बने अध्यापक

इसमें एक शिक्षक विवेक कुमार पुत्र लालजी राम पूर्व माध्यमिक विद्यालय जगत माझा में सहायक अध्यापक के पद पर कार्यरत था। वह गोरखपुर के पूर्व माध्यमिक विद्यालय जरलही विकास क्षेत्र पिपरौली में कार्यरत सहायक अध्यापक विवेक कुमार त्रिपाठी पुत्र लालजी राम त्रिपाठी निवासी ग्राम पोस्ट कोठा विकास क्षेत्र बांसगांव के प्रमाण पत्र पर नौकरी कर रहा था।

बीएसए ने की कार्रवाई

इसकी पुष्टि विवेक कुमार त्रिपाठी ने एसटीएफ कार्यालय में पहुंचकर भी की थी। बेसिक शिक्षा अधिकारी की जांच में मामला सही पाया गया और देवरिया में कार्यरत शिक्षक विवेक कुमार पुत्र लालजी राम को नवंबर माह में नोटिस जारी कर अपना पक्ष रखने को कहा गया, लेकिन वह नहीं आया। इस पर बीएसए (BSA) संतोष कुमार राय ने अब उसे बर्खास्त कर दिया है।

यह भी पढ़ें: Signal App की निकली लॉटरी, भारत में धड़ाधड़ हो रहा डाउनलोड

Related Articles