देवरिया शेल्टर होम केस की होगी सीबीआई जांच : योगी

0

लखनऊ: बिहार के मुजफ्फरपुर शेल्टर होम मामले की तर्ज पर हुए यूपी के देवरिया कांड में योगी सरकार ने सख्त रुख अपनाया है। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने मामले की तह तक जाने और दोषियों पर कार्रवाई के लिए केंद्र सरकार को पत्र लिखकर सीबीआई जांच की सिफारिश की है। सीएम योगी ने कहा है कि मामले की जांच सीबीआई को सौंपी जाए और गृह विभाग पत्र के साथ एक तय प्रोफॉर्म बना कर सूचनाएं आधिकारिक रूप से केंद्र सरकार के पास भेजी जाय।

साक्ष्यों से न हो छेड़छाड़- योगी

मुख़्यमंत्री ने आदेश दिया है कि जब तक मामला सीबीआई के अधीन नहीं जाता तब तक साक्ष्यों से किसी भी तरह की छेड़छाड़ नहीं होनी चाहिए। वहीं गृह विभाग ने एडीजी क्राइम संजय सिंघल की अध्यक्षता में एसआईटी की एक टीम का भी गठन किया है, जिसमें पीटीएस मेरठ में एसपी पूनम और ईओडब्ल्यू में एसपी भारती सिंह को शामिल किया गया है। इस टीम की सहायता एसटीएफ करेगी।

इन पहलुओं की भी होगी जांच

इससे पहले घटना की सम्पूर्ण जांच के लिए अपर मुख्य सचिव (महिला कल्याण) रेणुका कुमार और अपर पुलिस महानिदेशक (महिला हेल्पलाइन) अंजू गुप्ता की अध्यक्षता वाली जांच कमेटी के गठन के भी निर्देश दिए गए थे। प्रकरण में शासन के ओर से देवरिया के विध्वसनी नारी संरक्षण केंद्र की मान्यता सामाप्त किये जाने के बावजूद भी निरंतर चलते रहने की जांच होगी और इसमें पुलिस की भूमिका को भी देखा जाएगा। यह जांच एडीजी जोन गोरखपुर दाबा शेरपा को सौंपी गई है। वह देवरिया के स्थानीय थाने में 30 जुलाई को दर्ज कराई गई एफआईआर पर कार्रवाई न किए जाने के मामले की भी जांच की जाएगी।

loading...
शेयर करें