उत्तर प्रदेश में 12 लाख स्मार्ट बिजली मीटर पर विभाग लेगा फीड बैक

उत्तर प्रदेश के लगभग 12 लाख स्मार्ट बिजली मीटर उपभोक्ताओ के बारे में बिजली विभाग ने लिखित फीड बैक फार्म जारी किया है।

लखनऊ: उत्तर प्रदेश के लगभग 12 लाख स्मार्ट बिजली मीटर उपभोक्ताओ के बारे में बिजली विभाग ने लिखित फीड बैक फार्म जारी किया है। लखनऊ, बनारस, इलाहाबाद, बरेली, मथुरा, केस्को कानपुर ,मेरठ , गाजियाबाद ,नोएडा गोरखपुर और अयोध्या सहित अन्य जिलों में जिनके परिसर पर स्मार्ट मीटर लगाए जा चुके है और अन्य उपभोक्ताओ के परिसर पर लगाने की योजना है की लम्बे समय से लड़ाई लड़ रहे उपभोक्ता परिषद् को बड़ी जीत हासिल हुई है।

गुरूवार की देर रात पावर कार्पोरेशन के प्रबंध निदेशक ऍम देवराज ने ऊर्जा मंत्री जी के निर्देश के बाद सभी 12 लाख स्मार्ट मीटर उपभोक्ताओ से मीटर के बारे में लिखित फीड बैक फॉर्म जारी किया है।

प्रबंध निदेशक द्वारा सभी कम्पनियो के एमडी को उपभोक्ताओ से फीडबैक फॉर्म भराने का निर्देश जारी किया। जिसमे अनेको विवरण के साथ यह भी अंकित है की स्मार्ट मीटर से उपभोक्ता संतुष्ट है अथवा असंतुष्ट ।

अगर असंतुष्ट है तो उसका कारण जरूर लिखने को कहा गया है । देश में पहली बार उपभोक्ता संतुष्टी रेफरेंडम होने जा रहा है जहां उपभोक्ता के घर जाकर अभियंता कार्मिक उनका फीड बैक प्राप्त करेंगे।

गौरतलब है की उत्तर प्रदेश बिजली उपभोक्ता परिषद् ने दो दिन पहले ऊर्जामंत्री श्रीकांत शर्मा से मुलाकात कर लिखित फीडबैक फॉर्म भरे जाने की मांग उठाई थी । उसके बाद ऊर्जा मंत्री ने प्रबंध निदेशक को जरूरी निर्देश जारी किया ।

समिति के सदस्य अवधेश कुमार वर्मा नेे आज कहा कि प्रदेश के समस्त स्मार्ट मीटर उपभोक्ताओ से अपील की जाती है कि स्मार्ट मीटर से आने वाली सभी समस्याओ व दिक्कतों के बारे में अपना लिखित फीडबैक अवश्य दें। स्मार्ट मीटर के तेज चलने और जंप कर जाने की शिकायत मिल रही थी।

इसे भी पढ़े: सोनिया और राहुल का बड़ा दावा, कहा- ‘सत्ता में आने पर किसान विरोधी तीनों कानून फाड़ देंगे’

Related Articles