दर्शन को तैयार हैं श्रद्धालु, जानिए कब से खुलेंगे बद्रीनाथ के कपाट

अब पूजा अर्चना के बाद श्रद्धालुओं को भगवान बद्रीनाथ के दर्शन भी कर सकेंगे। उत्तराखंड के चारो धाम शीतकाल के समय कपाट बंद कर दिए गए है।

उत्तराखंड:  हिमालय की पहाड़ी पर स्थित प्रसिदध् बद्रीनाथ धाम के कपाट बसंत पंचमी के पावन अवसर पर खोलने की तिथि नियत की गई है। बद्रीनाथ धाम के कपाट खुलने के बाद श्रद्धालुओं को 18 मई की सुबह 4:15 बजे से बरद्री विशाल के दर्शन का मौका मिलेगा।

 

मंदिर के अधिकारियों ने बताया कि 18 मई को पूजा अर्चना के बाद श्रद्धालु भगवान बद्रीनाथ के दर्शन भी कर सकेंगे। बता दें कि उत्तराखंड के चारों धाम शीतकाल के समय बंद कर दिए गए है। चमोली जिले में 3,133 मीटर की हाइट पर स्थित बद्रीनाथ मंदिर के कपाट खुलने का मुहर्त हर वर्ष बसंत पंचमी का दिन निर्धारित किया गया है। राजपुरोहितो द्वारा लोगो के उपस्थिती में इस दिन को तय किया गया है।

यह भी पढ़े:  किसान आंदोलन: कड़ाके की ठंड झेलने के बाद तपती धूप से निपटने की तैयारी

कपाट खोलने की परंपरा

मां सरस्वती का प्रकटोत्सव वसंत पंचमी मंगलवार को मनाया जा रहा है। इस पर्व पर रवि योग, सर्वार्थ सिद्धि योग और अमृत सिद्धि योग का संयोग होने से पर्व का महत्व और अधिक बढ़ रहा है। वसंत पंचमी के अबूझ मुहूर्त को देखते हुए ही प्राचीनकाल से भू-वैकुंठ यानी श्री बद्रीनाथ धाम के कपाट खोलने की तिथि का निर्धारण की परंपरा आज भी कायम है। पुरातन काल से इस दिन नए साल के पंचांग की शुरुआत होती है। ज्योतिषी पंचाग से आज बद्रीनाथ के कपाट को खोलने की तिथि निर्धारित की जाती है।

यह भी पढ़े:  Bigg Boss 14: घर में बेचैनी का माहौल आखिर कौन लेकर जाएगा ट्रॉफी (Trophy)

Related Articles

Back to top button