डीजीपी ने रामलाल के किए दर्शन, सुरक्षा व्यवस्था पर की समीक्षा, पुलिस की ढिलाई पर नाराज

अयोध्या: उत्तर प्रदेश पुलिस के मुखिया डीजीपी मुकुल गोयल (DGP mukul goyal) पड़ संभालने के बाद आज शनिवार को पहली बार अयोध्या (Ayodhya) में रामलाल (Ramlala) के दर्शन करने पहुंचे। डीजीपी (DGP) सबसे पहले सर्किट हाउस पहुंचे जहां उन्होंने गार्ड ऑफ़ ऑनर दिया गया। आज गुरु पूर्णिमा के अवसर पर उन्होंने श्रीरामजन्मभूमि और हनुमानगढ़ी पर पूजन अर्चना किया और श्रीरामजन्मभूमि परिसर की सुरक्षा व्यवस्था का निरीक्षण किया। इसके बाद उन्होंने मीटिंग बुलाई जिसमे वो सुरक्षा व्यवस्था ले रहे थे।

आपको बता दें कि पिछले कुछ दिनों पहले लखनऊ के काकोरी में अल कायदा के दो आतंकियों को पकड़े जाने के बाद से धार्मिक स्थलों पर सीरियल ब्लास्ट की सूचना मिलने पर डीजीपी बेहद गंभीर है, इसी को लेकर वें धार्मिक स्थलों की सुरक्षा व्यवस्था परखने में लगे हुए है।

बुलाई बैठक

जानकारी के मुताबिक, अयोध्या के दौरे पर पहुंचे पुलिस महानिदेशक मुकुल गोयल को सर्किट हाउस में गार्ड ऑफ ऑनर दिया गया। यहां रामलला का दर्शन करने के साथ ही डीजीपी ने श्रीराम जन्मभूमि परिसर की सुरक्षा का जायजा भी लिया और हनुमानगढ़ी पर पूजन दर्शन किया। इस मौके पर एडीजी लखनऊ जोन एसएन साबत भी उनके साथ मौजूद हैं।

कानून व्यवस्था पर की समीक्षा बैठक

इसके बाद उन्होंने सभी वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक, पुलिस अधीक्षक के साथ अपराध एवं कानून व्यवस्था के संबंध में समीक्षा बैठक की। अपराध नियंत्रण पर उन्होंने संतुष्टि जताई, इसके अलावा अयोध्या में बीते दो साल से लंबित पड़ी विवेचनाओं को देखकर नाराज हुए और इन्हें जल्द पूरा करने का निर्देश दिया।

जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की

हनुमानगढ़ी दर्शन सर्किट हाउस में जनप्रतिनिधियों से मुलाकात की इसमे सांसद लल्लू सिंह, विधायकों में इंद्र प्रताप तिवारी खब्बू, रामचंद्र यादव, गोरखनाथ बाबा शामिल रहे। डीजीपी ने मंडलायुक्त एमपी अग्रवाल, जिलाधिकारी अनुज झा से भी मुलाकात की व अयोध्या की सुरक्षा को लेकर विचार विमर्श किया। इस मौके पर एडीजी जोन एसएन साबत, आईजी अयोध्या डॉ संजीव ग़ुप्ता, एसएसपी अयोध्या शैलेष पांडेय, एसपी सिटी विजयपाल सिंह समेत अंबेडकरनगर, अमेठी, सुलतानपुर, बाराबंकी के पुलिस अधिकारी मौजूद रहे।

 

 

Related Articles