दिल्ली हिंसा में जले घर की अलग कहानी, दहसत और पलायन का माहौल

नई दिल्ली:दिल्ली में हुई हिंसा में लोगों के घर जला दिए और भारी मात्रा में नुकसान हुआ है। जिसमे हर घर अपनी अलग ही कहानी सुना रहा है। टूटे मकान, सड़क पर बिखरा मलबा, जली हुईं बाइक व कारें इस इलाके में हुई बर्बादी को बयां कर रही हैं। इतना खौफनाक मंजर देख कर यहां रहने वाले लोगों में दहशत हैं।

स्थिति यह है कि हल्की सी भी आवाज पर लोग घरों की खिड़कियों से झांकने लगते हैं। मंजर ऐसा है कि देखकर किसी की भी रूह कांप जाए। दूर-दूर तक सिर्फ तबाही नजर आती है। शिव विहार इलाके के निवासियों ने बताया कि सालों से दोनों समुदाय के लोग आपसी सौहार्द के साथ रहते थे।  स्थानीय लोगों ने बताया कि उपद्रवियों ने इस कदर आतंक बरपाया कि लोगों के घरों में लूटपाट के बाद घर में आग लगाकर गैस सिलिंडर डाल दिया।

इलाके में रहने वाली बबीता श्रीवास्तव ने बताया कि चार साल पहले गांधी नगर से यहां मकान लिया था। पिछले चार साल में कभी ऐसा न देखा था न सुना था, लेकिन घटना वाले दिन उपद्रवियों ने हमारे घर के बाहर खड़े होकर ताबड़तोड़ गोलियां चलाईं। ऐसे में दोबारा यहां रहने में डर लग रहा है।

Related Articles