दिग्विजय सिंह ने नीतीश कुमार से की अपील, बिहार में तेजस्वी यादव को दें अपना आशीर्वाद

धर्मनिरपेक्ष विचारधारा वाले लोगों को एक करने में मदद करनी चाहिए। ऐसा करने से ही महात्मा गांधी और जयप्रकाश नारायण को सच्ची श्रद्धांजली दी जा सकती है

इंदौर: बिहार विधानसभा चुनाव में एनडीए और खासकर बीजेपी को मिले बहुमत के बाद कांग्रेस के वरिष्ठ नेता दिग्विजय सिंह ने पत्रकारों के साथ एक साक्षात्कार में जनता दल के मुखिया नीतीश कुमार से अपील की कि उन्हें बीजेपी और आरएसएस का साथ छोड़कर राष्ट्रीय जनता दल के नेता तेजस्वी यादव का साथ देना चाहिए।

दिग्विजय सिंह ने कहा कि नीतीश कुमार को तेजस्वी यादव को अपना आशीर्वाद देना चाहिए। नीतीश कुमार को समाजवादी, धर्मनिरपेक्ष विचारधारा वाले लोगों को एक करने में मदद करनी चाहिए। ऐसा करने से ही महात्मा गांधी और जयप्रकाश नारायण को सच्ची श्रद्धांजली दी जा सकती है।

‘फूट डालो और राज करो’ नीति को ना पनपने दें

मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह ने नीतीश कुमार से यह भी अपील की कि बिहार अब उनके लिए छोटा हो गया है, और अब उन्हें भारत की राजनीति में आ जाना चाहिए। उन्हें समाजवादी धर्मनिरपेक्ष की विचारधार रखने वालों को एक मत करना चाहिए। अंग्रेजों द्वारा अपनाई गई ‘फूट डालो और राज करो’ नीति को फिर से नहीं पनपने दे और ऐसे लोगों का साथ भी नहीं देना चाहिए।

महात्मा गांधी और जयप्रकाश की विरासत से निकले हैं नीतीश कुमार

अपनी बात में दिग्विजय सिंह ने कहा कि आप महात्मा गांधी और जयप्रकाश नारायण की विरासत से निकले राजनेता हैं आपको उनकी विचारधारा को आगे ले जाना चाहिए। उन्होनें कहा कि संघ इस दोहरे सदस्यता वाली राजनीति से ही टूटी थी। आपको बीजेपी और आरएसएस का साथ छोड़कर भारत को बर्बादी से बचाना चाहिए।

बीजेपी और आरएसएस अमरबेल की तरह

बीजेपी और आरएसएस की तुलना अमरबेल से करते हुए मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री ने कहा कि ये वो लता है जो किसी भी पेड़ से लिपट जाए तो उसे सुखा देती है परन्तु खुद बढ़ती जाती है। बीजेपी और आरएसएस जैसे अमरबेल को बिहार में ना पनपने दीजिए। लालू यादव ने आपके साथ संघर्ष किया है इसलिए आपको उनका साथ देना चाहिए।

राष्ट्रीय जनता दल ने सबसे अधिक सीटों पर कब्जा किया

इस बार विधानसभा चुनाव में एनडीए ने भले ही 243 सीटों में से 125 सीटों पर अपना कब्जा कर लिया हो परन्तु अगर हम एकल पार्टियों की बात करें तो महागठबंधन का नेतृत्व कर रहे तेजस्वी यादव की राष्ट्रीय जनता दल पार्टी ने अकेले ही 75 सीटों पर जीत दर्ज की है जो कि बिहार विधानसभा चुनाव में एकल पार्टी द्वारा जीती गई अधिकतम सीट है।

यह भी पढ़े: सुप्रीम कोर्ट के आदेश के बाद वरिष्ठ पत्रकार अर्नब गोस्‍वामी जेल से हुए रिहा

Related Articles

Back to top button