भय्यूजी महाराज की सुसाइड पर दिग्विजय सिंह ने शिवराज सरकार को ठहराया दोषी, कह दी ये बड़ी बात

नई दिल्ली। संत और आध्यात्मिक गुरु भय्यूजी महाराज ने मंगलवार को गोली मारकर खुदकुशी कर ली। जिसके बाद उन्हें अस्पताल ले जाया जाएगा, जहां उन्हें मृत घोषित कर दिया गया। बताया जा रहा है आज दोपहर 2 बजे उनकी शव यात्रा निकाली जाएगी, जिसके बाद उनका अंतिम संस्कार किया जाएगा। साथ ही कहा जा रहा है कि उनके पार्थिव शरीर को मुखाग्नि उनकी बेटी द्वारा दी जाएगी।

उनके खुदकुशी की वजह बेटी और दूसरी शादी बताई जा रही है। कहा जा रहा है उनके जीवन में काफी ज्यादा तनाव हो गया था जिसे अब वह झेल नहीं पा रहे थे और उन्होंने यह कदम उठा लिया। साथ ही उनकी मौत का कारण उनकी बटी और दूसरी पत्नी को बताया जा रहा है। कहा जा रहा है कि उनकी दूसरी पत्नी के बारे में उनकी बेटी को नहीं पता था, पता चलते ही उसने कभी उन दोनों के रिश्ते को नहीं अपनाया। इस बात को लेकर तीनों के बीच अनबन होती रहती थी। अपने सुसाइड नोट में अपनी मौत का जिम्मेदार उन्होंने खुद को बताया है। घटनास्थल से मिली रिवाल्वर को भी पुलिस ने बरामद कर लिया है। साथ ही पूर्व मुख्‍यमंत्री व कांग्रेस के वरिष्‍ठ नेता दिग्विजय सिंह ने शिवराज सरकार को दोषी ठहराया है।

बातचीत के दौरान उन्होंने कहा कि भय्यूजी महाराज नर्मदा में शिवराज सरकार द्वारा हो रहे अवैध खनन को लेकर चिंतित थे। उन्‍हें मुंह बंद रखने के लिए मंत्री पद का ऑफर भी दिया गया था। उन्‍होंने मुझसे फोन पर बातचीत में बताया था कि उन्‍होंने यह ऑफर ठुकरा दिया था।”

Related Articles