दिलीप घोष ने ममता को दी ऐसी सलाह की TMC में मचा घमासान, जानें पूरा मामला

कोलकाता: पश्चिम बंगाल से भाजपा अध्यक्ष दिलीप घोष (Dilip Ghosh) ने अपना एक वीडियो साझा करके प्रदेश की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी को अपना सुझाव दिया है। उन्होंने ममता बनर्जी से कहा है कि अपना चोटिल पैर लोगो को दिखाने के लिये ‘बरमूडा’ पहनना चाहिए। बस फिर क्या था उनके इस बयान से राजनीति में घमासान मच गया। टीएमसी ने इस बयान को स्तरहीन टिप्पणी करार दिया है, वहीं महिलाओं ने भी सोशल मीडिया पर इस टिप्पणी को लेकर नाराजगी जताई है। दिलीप घोष (Dilip Ghosh) पूर्व में भी अपने विवादिय बयानों को लेकर चर्चा में बने रहते है। वैसे तो इस बयान में उन्होंने किसी का नाम लिए बिना यह टिप्पणी की है, लेकिन माना जा रहा है कि ये बयान ममता बनर्जी को निशाना बनाते हुए की गई है।

ममता के पैर में लगी चोट पर राजनीति

सीएम ममता के पैर में लगी चोट पर राजनीति शुरू हो गई। इस कथित वीडियो में दिलीप घोष सोमवार को पुरुलिया में एक चुनावी सभा में यह कहते सुने जा रहे हैं कि उनका प्लास्ट उतार दिया गया था और पैर पर पट्टी बांध दी गई थी। इसक बाद वो हर किसी को अपना चोटिल पैर दिखा रही हैं। दिलीप घोष को यह कहते हुए सुना गया, “…वह इस तरह से साड़ी पहन रही हैं कि एक पैर ढका हुआ है जबकि दूसरा दिखाने के लिये खुला हुआ है। किसी को इस तरह साड़ी पहने नहीं देखा गया” उन्होंने कहा, “अगर उन्हें दिखाने के लिये पैर का प्रदर्शन करना है तो वह बरमूडा शॉर्ट्स पहन सकती हैं। इससे ज्यादा बेहतर तरीके से नजर आएगा।”

ये भी पढ़ें : ममता के लिए वोट मांग सकते है अखिलेश यादव, जल्द हो सकते है बंगाल के लिए रवाना

टीएमसी ने दी तीखी प्रतिक्रिया

भाजपा नेता की इस टिप्पणी पर टीएमसी ने तीखी प्रतिक्रिया देते हुए बंगाली में एक ट्वीट करके कहा, “हम दिलीप घोष से ऐसी ही स्तरहीन टिप्पणियों की उम्मीद कर सकते हैं।” “दिलीप घोष की तरफ से एक महिला मुख्यमंत्री के बारे में की गई इस तरह की टिप्पणी यह साबित करती है कि बंगाल भाजपा के नेता नहीं जानते कि महिलाओं के प्रति सम्मान कैसे दिखाना है।” ट्वीट में कहा गया, “बंगाल की माताएं और बहनें ममता बनर्जी के इस अपमान का दो मई को उचित जवाब देंगी।”

ये भी पढ़ें : जानिए क्यों इस बार का WWE हॉल ऑफ़ फेम है देश के लिए खास

Related Articles