केले के पत्ते पर भोजन करना सिर्फ पुरानी परम्परा ही नहीं बल्कि ये है उसके फायदे

0

हम आपको बता दें साउथ इंडियन त्योहारों के मौके पर भोजन परोसने के लिए केले की पत्तियों का उपयोग करते हैं। इन पत्तों का इस्तेमाल ना केवल खाना परोसने, बल्कि खाना पकाने और साज-सज्जा के लिए भी किया जाता है। इन पत्तों को सबसे अधिक हाइजिनिक, पर्यावरण के अनुकूल और स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है। इन पत्तियों पर आप एक बार का सारा भोजन रख सकते हैं।

स्वास्थ को इस तरह से मिलेगा फायदा

जानकारी के लिए हम आपको बता दें डिशवॉशर में बर्तन साफ करें या खुद से, साबुन या डिटर्जेंट का इस्तेमाल करते ही हैं। इन केमिकल्स के ट्रेसेस आपकी प्लेट्स और बरतनों पर फिर भी रह जाते हैं जो आपको नुकसान पहुंचा सकते हैं। केले के पत्ते केमिकल से मुक्त होते हैं और ऐसे कोई नुकसान नहीं पहुंचाते। वही केले के पत्तों पर एक तरह की वैक्स कोटिंग होती है जिसमें एक विशिष्ट स्वाद होता है। इन पर गर्म भोजन परोसने से यह वैक्स पिघलती है और आपके खाने का स्वाद बढ़ा देती है।

और भी है इसके फायदे

इसी के साथ केले के पत्तों में प्राकृतिक एंटीऑक्सीडेंट्स जैसे पॉलीफेनॉल्स पाएं जाते हैं। ये एंटीऑक्सीडेंट्स कई पौधों से प्राप्त होने वाले खाद्य पदार्थों में पाएं जाते हैं। अगर आप केले के पत्तों पर खाना परोसते हैं तो भोजन इन एंटीऑक्सीडेंट्स को अवशोषित कर लेता है जो आपके शरीर को कई बीमारियों से बचाता है। इन पत्तों को सबसे अधिक हाइजिनिक, पर्यावरण के अनुकूल और स्वास्थ्यवर्धक माना जाता है।

loading...
शेयर करें