IPL
IPL

भयंकर स्थिति: सेना के हाथों 82 लोगों की मौत, एक के उपर एक रखे गए हैं शव

‘Assistance Association for Political Prisoners’ द्वारा संकलित शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक मरने वालों की संख्या 82 है। यह संगठन मरने वालों और गिरफ्तार लोगों की दैनिक संख्या जारी करता है।

यांगून: बीते शुक्रवार को Mayanmar में सैन्य बलों द्वारा सैन्य तख्तापलट के विरोध प्रदर्शन करने वाले 82 प्रदर्शनकारियों को मार दिए गए। ये सभी लोकतान्त्रिक व्यवस्था के समर्थन में विश्वास रखने वाले थे। मारे गए प्रदर्शनकारियों की संख्या पर नजर रखने वाले एक संगठन और स्थानीय मीडिया एजेंसियों की खबरों में यह दावा किया गया है।

बागो शहर में सैन्य बलों की कार्रवाई में शुक्रवार को 82 आंदोलनकारियों की मौत हो गयी। इससे पहले 14 मार्च को mayanmar की पुरानी राजधानी यांगून में 100 से ज्यादा लोग मारे गए थे। यांगून से बागो करीब 100 किलोमीटर दूर है। ‘Associated press’ स्वतंत्र रूप से मौत के इन आंकड़ों की पुष्टि करने में असमर्थ है।

‘Assistance Association for Political Prisoners’ द्वारा संकलित शुरुआती आंकड़ों के मुताबिक मरने वालों की संख्या 82 है। यह संगठन मरने वालों और गिरफ्तार लोगों की दैनिक संख्या जारी करता है।

Myanmar Now ने भी दी 82 लोगों के मारे जाने की खबर

ये संख्याएँ काफी व्यापक रूप से विश्वसनीय मानी जाती हैं क्योंकि मौत के नए मामलों को तब तक शामिल नहीं किया जाता जब तक उनकी पुष्टि नहीं हो जाती और उनकी डिटेल्स वेबसाइट पर नहीं दे दी जाती। संगठन ने शनिवार की Report में कहा कि उसे बागो में मरने वालों की संख्या के और बढ़ने की आशंका है क्योंकि और मामलों का सत्यापन किया जाना बाकी है। ऑनलाइन समाचार वेबसाइट Myanmar Now ने भी 82 लोगों के मारे जाने की खबर दी है।

Myanmar में एक फरवरी को हुए सैन्य तख्तापलट के विरोध प्रदर्शन लगातार जारी है। सुरक्षा बलों के हाथों लोकतंत्र समर्थक आंदोलनकारियों को मारा जा रहा है।

ये भी पढ़ें : 10वीं पास के लिए Haryana Vidhan Sabha में इन पदों पर निकली नौकरियां

Related Articles

Back to top button