IPL
IPL

Discussion on Exam 2021: पीएम मोदी का फॉर्मूला- परीक्षा हॉल के बाहर सारी टेंशन छोड़कर जाएं

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए 'परीक्षा पे चर्चा 2021' कार्यक्रम में छात्रों और अभिभावकों के साथ संवाद किए है

नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए ‘परीक्षा पे चर्चा (Discussion on Exam) 2021’ कार्यक्रम में छात्रों और अभिभावकों के साथ संवाद किए है। इस दौरान उन्होंने कहा कि, मैं छात्रों से कहना चाहता हूं कि आप सभी विषयों को बराबर समय दीजिए। पढ़ाई के दौरान सबसे पहले कठिन सवाल हल करे क्योंकि इस दौरान आपका दिमाग ताजा रहता है।

कठिन सवाल

परीक्षा पे चर्चा पर पीएम मोदी (PM Modi) ने छात्रों से कहा कि, अगर आप पहले कठिन सवाल हल कर लेते हैं, तो बाद में सरल सवाल तो और भी आसान हो जाएंगे। उन्होंने कहा कि आजकल बच्चों का आकलन परीक्षा के नतीजों तक ही सीमित हो गया है। परीक्षा में अंकों के अलावा भी बच्चों में कई ऐसी चीजें होती हैं जिन्हें अभिभावक देख नहीं पाते। परीक्षा एक प्रकार से लंबी जिंदगी जीने का अवसर है। समस्या तब होती है, जब हम परीक्षा को जीवन-मरण का सवाल बना देते हैं।

बड़े एग्जाम के लिए तैयार

PM ने बोला कि, आज मैं आपको एक बड़े एग्जाम के लिए तैयार करना चाहता हूं। ये बड़ा एग्जाम है जिसमें हमें शत-प्रतिशत Marks लेकर पास होना ही है।

ये है- अपने भारत को आत्मनिर्भर बनाना।

ये है- Vocal for Local को जीवन मंत्र बनाना।

आप जो अध्ययन करते हैं, वह आपके जीवन में सफलता और विफलता का एकमात्र उपाय नहीं हो सकता है। जीवन में आप जो भी करेंगे, वे आपकी सफलता और असफलता को निर्धारित करेंगे।आप जो पढ़ते हैं, वो आपके जीवन की सफलता और विफलता का पैमाना सिर्फ यही एकमात्र नहीं हो सकता। आप जो जीवन में करेंगे, वो आपकी सफलता और असफलता को तय करेंगे। आप लोगों के प्रेशर, सोसाइटी के प्रेशर, माता-पिता के प्रेशर, इन सबसे बाहर निकलिए।

Generation gap

PM मोदी ने बोला कि अपने बच्चे के साथ उसकी generation की बातों में, उतनी ही दिलचस्पी दिखाइएगा, आप उसके आनंद में शामिल होंगे, तो आप देखिएगा generation gap कैसे खतम हो जाती है।

पीएम मोदी ने बोला कि, आपका मन अशांत रहेगा, चिंता में रहेगा, आप घबराएं हुए रहेंगे तो इस बात की संभावना बहुत ज्यादा होगी कि जैसे ही आप Question Paper देखेंगे, कुछ देर के लिए सबकुछ भूल जाएंगे। इसका सबसे अच्छा उपाय यही है कि आपको अपनी सारी टेंशन परीक्षा हॉल के बाहर छोड़कर जाना चाहिए। और आपको ये भी सोचना चाहिए कि जितनी तैयारी आपको करनी थी, आपने कर ली है। अब आपका फोकस प्रश्नों के अच्छे से उत्तर देने में होना चाहिए।

 यह भी पढ़े: पूर्ण Lockdown के समर्थन में जर्मनी की चांसलर Merkel, 18 अप्रैल तक सब बं

Related Articles

Back to top button