मध्यप्रदेश में बोर्ड परीक्षा के पूर्व ज़िला शिक्षा अधिकारी करेंगे स्कूलों का निरीक्षण

विदिशा ज़िला मे कोरोना संक्रमण के दौरान आज से 10वीं और 12वीं के स्कूल खुल ने जा रहे हैं। इसमें पहले दिन बोर्ड परीक्षा के पूर्व स्कूलों का निरीक्षण करेंगे।

मध्यप्रदेश: विदिशा ज़िला मे कोरोना संक्रमण के दौरान आज से 10वीं और 12वीं के स्कूल खुलने जा रहे हैं। इसमें पहले दिन बोर्ड परीक्षा के पूर्व स्कूलों का निरीक्षण करेंगे। जिला शिक्षा के अधिकारी ए. के. मुद्गल ने बताया कि स्कूलों में कक्षा 10वीं और 12वीं की रेगुलर क्लास लगाई जाएंगी।

ज़िला के स्कूलों में सोशल डिस्टेंसिंग के साथ कक्षाओं का संचालन करने की चुनौतीयों से निपटने कि शिक्षा विभाग ने तैयारिया की हैं। एहतियात के तौर पर संक्रमण से बचाव को लेकर सभी स्कूलों के प्राचार्य को कोविड-19 और शासन की गाइडलाइन जारी की गई है। इसमें सोशल डिस्टेंसिंग के साथ एक बेंच पर एक विद्यार्थी को बैठाने, हर कक्षा में सैनिटाइजर रखने, परिसर को सैनिटाइज करने, मास्क का उपयोग अनिवार्य करने को कहा गया है।

बच्चो की जिम्मेदारी सिर्फ स्कूल की

बच्चो की स्कूल आने पर सहमति नहीं मिलने पर विद्यार्थियों को होमवर्क और नोट्स बनाकर उपलब्ध कराने की जिम्मेदारी शिक्षकों को सौंपी गई है। इसके साथ ही ऐसे बच्चे जो स्कूल नहीं आ पाएंगे, उनकी ऑनलाइन पढ़ाई भी स्कूल प्रबंधन कराएगा।  नही होगी, बच्चे उन के परिवार वाले सब की होगी।

उन्हाने बताया कि जिले के 120 हाई स्कूल और 88 हायर सेकेंडरी स्कूलों में 10वीं एवं 12वीं के लगभग 25000 बच्चे हैं। इन स्कूलों को सोशल डिस्टेंसिंग के साथ लगा कर रेगुलर कक्षाओं का संचालन किया जाएगा। बच्चों को स्कूल भेजने के लिए आज पहले दिन कक्षाएं न लगाकर केवल छात्र-छात्राओं के पालकों को व्यवस्थाओं के निरीक्षण के लिए बुलाया गया है। इस दौरान संक्रमण से किए गए बचाव के लिए किए गए इंतजामों के बारे में स्कूल प्रबंधन पूरी जानकारी देगा। शिक्षा विभाग ने यह भी कहा है कि स्कूल भेजने के लिए बच्चों के अभिभावकों की स्वतंत्रता है। इसके लिए उन पर कोई दबाव नहीं हैं।

यह भी पढ़े: ग्वालियर में 26 दिसंबर से शुरू होगा तानसेन समारोह का आयोजन

Related Articles

Back to top button