जिला जज ने फांसी लगाकर की आत्महत्या, आवास में मिला शव

गाजियाबाद: उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद शहर में जिला एवं सत्र न्‍यायाधीश योगेश कुमार ने फांसी लगाकर आत्महत्या (Suicide) कर ली है। शहर के सिहानी थाना गेट में उनके आवास पर योगेश कुमार का शव फांसी पर लटका हुआ मिला। इसकी सूचना मिलते ही मौके पर पहुंची पुलिस ने शव को कब्जे में लेकर पोस्टमार्टम के लिए भेज दिया है। घटनास्थल से वहां कोई भी सुसाइड नोट नहीं मिला है और पुलिस आत्महत्या (Suicide) के कारणों का पता लगाने में जुटी है।

जानकारी के मुताबिक, जज योगेश कुमार अपर जिला एवं सत्र न्‍यायालय के कोर्ट संख्‍या-9 में तैनात थे। मूल रूप से योगेश कुमार मेरठ के रहने वाले थे। वे सिहानी गेट थाना इलाके के नेहरू नगर में स्थित सरकारी आवास में रहते थे। 17 मार्च 2020 को गाजियाबाद जिला अदालत में योगेश कुमार की नियुक्ति हुई थी। गाजियाबाद में उनकी पहली पोस्टिंग थी।

ये भी पढ़ें : दिल्ली में हुए धमाके के बाद अमित शाह ने रद्द किया पश्चिम बंगाल दौरा

पुलिस ने बताया है कि जज योगेश कुमार की फांसी पर लटकने की सूचना मिली तो मौके पर पहुंच कर उन्हें उतार कर अस्पताल ले जाया गया। वहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। सीओ सेकेंड अवनीश कुमार ने बताया कि प्रारंभिक जांच में इस मामले को आत्महत्या से जोड़कर देखा जा रहा है। हालांकि आत्महत्या के कारणों का पता लगाया जा रहा है। वहीं पुलिस मामले की जांच में भी जुट गई है।

ये भी पढ़ें : सिंधु बॉर्डर पर SHO पर तलवार से हमले मामले में 44 गिरफ्तार

Related Articles